#undefined

bolkar speaker

क्या अज्ञानता एक प्रमुख कारण है जो सबसे शक्तिशाली लोगों के पतन का कारण बना?

Kya Agyanta Ek Pramukh Karan Hai Jo Sabse Shaktishali Logon Ke Patan Ka Karan Bana
डा. इन्दु प्रकाश सिंह  Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए डा. जी का जवाब
शिक्षण-कार्य, कालेज शिक्षा में प्राचार्य हूँ
2:01
बेटा आपका प्रश्न क्या अज्ञानता एक प्रमुख कारण जो सबसे शक्तिशाली लोगों के पतन का कारण बना हां एक सीमा तक आप कह सकते हैं कि अज्ञानता समझना वैसे अज्ञानता का अर्थ आप क्या लेना चाह रहे हैं यह थोड़ा सा क्लियर करना जरूरी है अपने देश में रावण से बड़ा ज्ञानी कोई नहीं माना गया है कहा जाता है कि चार वेद छह शास्त्र का ज्ञाता था और भगवान राम ने सामान्य से बंदरों और बालों की मदद से उसका सर्वनाश किया समझे आपने तो इससे हम लोग कह सकते हैं कि वह इस दृश्य ज्ञानी था कि अपनी सामर्थ्य के आगे उसने भगवान की सामर्थ्य को समझने की कोशिश नहीं की और है इसीलिए कहा जाता है कि अनकार जो है हमारे ज्ञान को कुंठित कर देता है वह नष्ट कर देता है और हमारे सर्वनाश की भूमिका तैयार कर देता है रावण से बड़ा कोई उदाहरण नहीं और एक बात यह है कि हमेशा अहंकार जो है हमें अज्ञानता की तरफ ले जाता है कि वह सिर्फ हमें अपने जोश और होश को जागृत करके और दूसरे के बारे में जानने समझने का मौका नहीं देता है और यह भी अज्ञानता का ही एक रूप है समझे ना अनुभव जनता का एक रूप है गुरूर के दुष्प्रभाव का एक रूप है तो निश्चित रूप से अज्ञानता भी एक प्रमुख कारण है जो अनेक शक्तिशाली लोगों के पतन का कारण बनती है इंदिरा जी ने दिया यार जब लगाया था डिफेंस इंडिया रूल्स और उसके बाद जब चुनाव हुआ तो उस चुनाव में और चारों खाने चित गिरी थी प्रधानमंत्री होते हुए भी उनकी जमानत जप्त हुई थी पंजाब ना तो अज्ञानता यही रही तो वह समाज को भारतीय लोगों को भारतीय लोगों की मानसिकता को समझने में असफल रही जिसे प्रकार अज्ञानता हम कह सकते थे
Beta aapaka prashn kya agyaanata ek pramukh kaaran jo sabase shaktishaalee logon ke patan ka kaaran bana haan ek seema tak aap kah sakate hain ki agyaanata samajhana vaise agyaanata ka arth aap kya lena chaah rahe hain yah thoda sa kliyar karana jarooree hai apane desh mein raavan se bada gyaanee koee nahin maana gaya hai kaha jaata hai ki chaar ved chhah shaastr ka gyaata tha aur bhagavaan raam ne saamaany se bandaron aur baalon kee madad se usaka sarvanaash kiya samajhe aapane to isase ham log kah sakate hain ki vah is drshy gyaanee tha ki apanee saamarthy ke aage usane bhagavaan kee saamarthy ko samajhane kee koshish nahin kee aur hai iseelie kaha jaata hai ki anakaar jo hai hamaare gyaan ko kunthit kar deta hai vah nasht kar deta hai aur hamaare sarvanaash kee bhoomika taiyaar kar deta hai raavan se bada koee udaaharan nahin aur ek baat yah hai ki hamesha ahankaar jo hai hamen agyaanata kee taraph le jaata hai ki vah sirph hamen apane josh aur hosh ko jaagrt karake aur doosare ke baare mein jaanane samajhane ka mauka nahin deta hai aur yah bhee agyaanata ka hee ek roop hai samajhe na anubhav janata ka ek roop hai guroor ke dushprabhaav ka ek roop hai to nishchit roop se agyaanata bhee ek pramukh kaaran hai jo anek shaktishaalee logon ke patan ka kaaran banatee hai indira jee ne diya yaar jab lagaaya tha diphens indiya rools aur usake baad jab chunaav hua to us chunaav mein aur chaaron khaane chit giree thee pradhaanamantree hote hue bhee unakee jamaanat japt huee thee panjaab na to agyaanata yahee rahee to vah samaaj ko bhaarateey logon ko bhaarateey logon kee maanasikata ko samajhane mein asaphal rahee jise prakaar agyaanata ham kah sakate the

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • क्या अज्ञानता एक प्रमुख कारण है जो सबसे शक्तिशाली लोगों के पतन का कारण बना शक्तिशाली लोगों के पतन का कारण अज्ञानता है
  • क्या अज्ञानता एक प्रमुख कारण है जो सबसे शक्तिशाली लोगों के पतन का कारण बना शक्तिशाली लोगों के पतन का कारण अज्ञानता है
URL copied to clipboard