#जीवन शैली

Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
2:01
प्रश्न है अगर हम खाली बैठे होते हैं तो नकारात्मक सोचे मन में आती हैं सकारात्मक सोच क्यों नहीं आती दिखी जो हमारा दिमाग है ना उसमें दादा नकारात्मक चीजें भरी हुई होती हैं इसी वजह से जो सकारात्मक हम कभी सोचते ही नहीं है आप चाहे 5 मिनट के लिए अपने आपको अपने आप से बात करने की कोशिश करेंगे तो आपको देखने को मिलेगा कि आप दुनिया के बारे में कितना नकारात्मक सोच रहे हो अपने बारे में कितना नकारात्मक सोच रहे हो आप कभी अपने बारे अच्छा नहीं सोचते कभी दूसरों के बारे में अच्छा सोचने की कोशिश भी करते हो तो नहीं हो पाता है केवल उसका एक ही कारण है आपके आसपास का वातावरण देखिए आप जैसी चीजें टीवी में देखते हैं मोबाइल्स में देखते हैं सुनते हैं अपने आसपास तू वह चीज आपके दिमाग में इतनी बैठ जाती हैं हम कि आप को कुछ भी सकारात्मक सोचने पर मजबूर करती ही नहीं है देखिए अगर आप मन की ना सोच कर हर चीज के बारे में दिमाग से सोचेंगे अगर आप हर चीज का मतलब निकालेंगे कि जो मैं सोच रहा हूं क्या उसके कोई सर पर है तो आप देखेंगे कि आपको अपने दिमाग से जवाब आने शुरू हो जाएंगे लेकिन अगर आप हर चीज में यह सोचोगे कि हां यह गलत होगा इसकी वजह से ऐसा हुआ होगा शायद मेरी वजह से ऐसा हुआ होगा तो केवल आपके नुक्स निकालने से आपका नकारात्मक सोचने से कुछ परिवर्तन नहीं होने वाला है यह शायद ऐसा भी हो सकता है कि जो आप गलत सोच रहे हो वैसा कुछ हो भी ना तो इसीलिए अपने मन की नात सुनकर अगर आप अपने दिमाग की सुनते हो और हर बात के एंड तक जाते हो और आप देखते हो कि क्या जो मैंने सोचा है वह बिल्कुल सही है और किस कारणवश अगर सोचा है अगर आप अपने दिमाग से सवाल पूछते हैं तो आपको उन चीजों का जरूर जवाब मिलेगा और आप नकारात्मक सोचना भी बंद कर देंगे धन्यवाद

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
ज्यादा मोबाइल यूज करने से होने वाले नुकसान के बारे में बताइए?Jyada Mobile Use Karne Se Hone Vale Nuksaan Ke Baare Mein Btaie
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
1:28
प्रश्न है सादा मोबाइल यूज करने से होने वाले नुकसान के बारे में बताइए देखिए मुझे लगता है कि 90% जो लोग हैं उसके नुकसान से अवगत हैं लेकिन उसके बावजूद भी उसकी अच्छाइयों को देखते हुए मोबाइल यूज करना बंद नहीं करते हैं यहां पर कम चलाना भी नहीं इस बारे में सोचते हैं अगर आप 24 घंटे सिर्फ मोबाइल पर लगे रहते हैं तो आपको नहीं पता कि वह आप कितनी परेशानियों को झेल रहे हैं और कितना आपको इस चीज का नुकसान हो रहा है इससे आपको काफी तरह की बीमारियों से जूझना भी पड़ सकता है सबसे पहली बात मोबाइल फोन की रेडिएशन से उत्पन्न खतरों में सबसे बड़ा खतरा है कैंसर अगर आप अपने मोबाइल फोन का पूरा दिन अपनी जेब में अश्लील से चिपका कर रखते हैं तो संबंधित स्थान पर ट्यूमर होने की आशंका ज्यादा होती है और आप आसानी से कैंसर के शिकार हो सकते हो रात के समय मोबाइल फोन शरीर से सटाकर या सीने पर रखकर सोने की आदत अगर आपकी है तो यह बेहद ही खतरनाक और जानलेवा आदत हो सकती है इसके अलावा इसके रेडिएशन का प्रभाव आपके मस्तिष्क पर भी नकारात्मक पड़ेगा दिखे वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन के शोध के अनुसार मोबाइल फोन का अत्यधिक इस्तेमाल मस्तिष्क के कैंसर के लिए जिम्मेदार है इसके विज्ञानों के प्रभाव के चलते ब्रेन ट्यूमर भी हो सकता है धन्यवाद

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
भारत का नंबर वन यूट्यूबर कौन सा है?Bharat Ka Number One Youtuber Kaun Sa Hai
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
1:15
प्रश्न है सादा मोबाइल यूज करने से होने वाले नुकसान के बारे में बताइए देखिए मुझे लगता है कि 90% जो लोग हैं उसके नुकसान से अवगत हैं लेकिन उसके बावजूद भी उसकी अच्छाइयों को देखते हुए मोबाइल यूज करना बंद नहीं करते हैं यहां पर कम चलाना भी नहीं इस बारे में सोचते हैं अगर आप 24 घंटे सिर्फ मोबाइल पर लगे रहते हैं तो आपको नहीं पता कि वह आप कितनी परेशानियों को झेल रहे हैं और कितना आपको इस चीज का नुकसान हो रहा है इससे आपको काफी तरह की बीमारियों से जूझना भी पड़ सकता है सबसे पहली बात मोबाइल फोन की रेडिएशन से उत्पन्न खतरों में सबसे बड़ा खतरा है कैंसर अगर आप अपने मोबाइल फोन का पूरा दिन अपनी जेब में अश्लील से चिपका कर रखते हैं तो संबंधित स्थान पर ट्यूमर होने की आशंका ज्यादा होती है और आप आसानी से कैंसर के शिकार हो सकते हो रात के समय मोबाइल फोन शरीर से सटाकर या सीने पर रखकर सोने की आदत अगर आपकी है तो यह बेहद ही खतरनाक और जानलेवा आदत हो सकती है इसके अलावा इसके रेडिएशन का प्रभाव आपके मस्तिष्क पर भी नकारात्मक पड़ेगा दिखे वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन के शोध के अनुसार मोबाइल फोन का अत्यधिक इस्तेमाल मस्तिष्क के कैंसर के लिए जिम्मेदार है इसके विज्ञानों के प्रभाव के चलते ब्रेन ट्यूमर भी हो सकता है धन्यवाद

#रिश्ते और संबंध

Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
0:52
प्रश्न है कि अगर आपको कोई लड़की पसंद है और वह भी आपको पसंद करती है तो ऐसे में एक दूसरे की भावनाओं को एक दूसरे को बताना सही होगा देखिए यह सबकी अपनी-अपनी पसंद होती है कुछ लोगों को आप देख रहे हैं शायद उनका आपको देखने का नजरिया उस तरह का ना हो जिस तरह का आप समझ रहे हो तो ऐसे में आपको सबसे पहले उनसे खुद ही बातचीत करके यह समझना होगा कि उसके मन में क्या है वैसे ही बिना वजह अगर आप अपने मन में उनको लेकर कुछ सोच रहे हो और वह आप गहन चिंतन में चले गए हो तो यह आपके लिए भी नुकसानदेह हो सकता है उनके लिए भी तो ऐसे में पहले ही बातों को आप तरीके से बोल देना और उन्हें बता देना ही अच्छा रहेगा धन्यवाद

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
एक ही बात के दो मतलब के उदाहरण क्या है?Ek Hi Baat Ke Do Matlab Ke Udahran Kya Hai
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
0:59
प्रश्न है एक ही बात के दो मतलब के उदाहरण क्या है एक ही बात के कई मतलब जैसे कि कहां पर सेंटेंस है कि क्या बात है यह कई प्रकार की इस्तेमाल होता है जिससे कि बात करते हैं कि प्रोत्साहन जैसे कि हम कहते हैं कि बेटा शाबाश तुमने तो परीक्षा में कमाल ही कर दिया अब अगर उसके अच्छे अंक नहीं आए हैं तो समझ लीजिए कि उसके पिता श्री उसको ताना मार रहे हैं या फिर अगर उसके सचमुच अंक बहुत अच्छे आए हैं तो समझ लीजिए कि उसके जो पिताश्री है उसको प्रोत्साहन करने के लिए ऐसा कर रहे हैं हम तो एक ही बात को कहने की कॉपी तरीके होते हैं जैसे की बात कर लीजिए बोली बोलना क्या बात है आजकल भाव नहीं दे रही हो यानी कि वह अपने भावनाओं को व्यक्त कर रहा है समझने वाले इसको किसी भी तरह से समझ सकते हैं धन्यवाद

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
कौनसी एसी चीज हैं जौ गीली है तो 1kg सूख जाएं तो 2kg और जलजाए तो 3kg की होजाती है?Kaunasee Esee Cheej Hain Jau Geelee Hai To 1kg Sookh Jaen To 2kg Aur Jalajae To 3kg Kee Hojaatee Hai
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
1:14
प्रश्न है कि कौन सी ऐसी चीज है जो गीली हो तो 1 किलो सूख जाए तो 2 किलो जल जाए तो 3 किलो देखे इसका उत्तर जो है सल्फर है वैसे तो आपको पता होगा कि कल पर एक रासायनिक तत्व है इसका एटॉमिक नंबर किचन और एटॉमिक वेट 32 है अगर हम 2 किलो सुखी सल्फर लेते हैं और इसे पानी में डालते हैं तो सल्फर पानी के ऊपर तैरने लगता है क्योंकि सल्फर का घंटा तुझे होता है पानी के घंटा से ज्यादा होता है और इसलिए यह पानी में घुलता यह मिलता नहीं है और हमें मालूम है अगर कोई भी चीज पानी में तैरती है तू अपने वास्तविक वजन से कम महसूस होगी इसलिए अगर आप 2 किलो सर पर पानी में डालोगे तो वह 1 किलो हो जाएगी इसी तरह अगर हम सर्फर को जलाते हैं तो उसके लिए ऑक्सीजन से क्रिया करनी होगी और हमें मालूम होना चाहिए किस कलर का 1 गुण होता है जब से चलाते हैं तो ऑक्सीजन से क्रिया करके उसको अपने आप में मिला लेता है सीजन का एटॉमिक नंबर 8 होता है और सल्फर का एटॉमिक नंबर 16 होता है इससे हमेशा पता चलता है कि सल्फर का एटॉमिक नंबर ऑक्सीजन से दोगुना होता है जिसकी वजह से उसका जो वेट बढ़ जाता है धन्यवाद

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
नींबू पाउडर बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें?Nimbu Powder Banane Ka Buisness Kese Shuru Kare
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
1:14
प्रश्न है नींबू पाउडर बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें देखिए जो बिजनेस है बड़ा यूनिक है यह फूड बिजनेस से जुड़ा हुआ बिजनेस है इस वजह से इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आप को जीएसटी नंबर और एफसीआई लाइसेंस की जरूरत पड़ेगी इस बिजनेस को आप जो है हम 20000 निवेश करके आसानी से शुरू कर सकते हैं बात करें प्रॉफिट की तो ऑनलाइन यह प्रोडक्ट ₹170 प्रति 100 ग्राम तक तेल हो सकता है इस तरह से 17:00 ₹100 प्रति किलो या प्रोडक्ट मार्केट में सेल हो सकता है अगर आप इसे कम करके प्रति 100 ग्राम अगर ₹100 का भी सेल करते हैं तो भी आप काफी अच्छा प्रॉफिट कमा सकते हो इस प्रोडक्ट को आप अपने लोकल मार्केट में सेल कर सकते हैं अब आप अपने लोकल मार्केट के किरानी वगैरह की शॉप पर भी इसको सेल कर सकते हैं या ओपन मार्केट में भी सेल कर सकते हैं इनके साथ आप होलसेल में भी इन एसटीएल कर सकते हैं अगर आप इसे थोड़ा बड़े लेवल पर सेल करना है तो आपसे ऑनलाइन यानी कि अमेजॉन फ्लिपकार्ट से जुड़कर वहां पर इसकी मार्केटिंग के बारे में जानिए सोशल मीडिया से जुड़िए और ऑनलाइन भी आप इस बिजनेस को अत्यधिक बढ़ा सकते हैं धन्यवाद

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
क्या एटीट्यूड होना अच्छा है?Kya Attitude Hona Acha Hai
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
1:22
प्रश्न है क्या एटीट्यूड होना अच्छा है देखिए बेहद अच्छी बात है लेकिन एटीट्यूड भी दो तरह के होते हैं हम यानी कि सकारात्मक भी हो सकता है और नकारात्मक भी हो सकता है देखिए एटीट्यूड को अगर हम हिंदी में इसका अर्थ निकाले तो वह होता है दृष्टिकोण किसी भी व्यक्ति का दृष्टिकोण नकारात्मक भी हो सकता और सकारात्मक दृष्टिकोण मतलब किसी भी व्यक्ति को किसी अन्य के प्रति कैसा नजरिया है जैसा कि सभी व्यक्ति यही कहते हैं कि जिस प्रकार आप मेरे साथ व्यवहार करोगे उसी प्रकार आप का प्रतीक जो है दृष्टिकोण होगा देखिए अगर आप दूसरों से हवा में ज्यादा बातें करना पसंद करते हैं आपको यह लगता है कि मैं ही तो हूं सब कुछ हूं और अपनी बड़ाई हमेशा करते रहते हो यानी कि आप में नकारात्मक दृष्टिकोण है अपने बारे में भी दूसरों के बारे में भी तो हमेशा जब भी दूसरों से मिले एक आदर सम्मान की भावना से मिले और उनसे ऐसे बात करें जैसे कि आप उनके स्वभाव को अच्छे जानते हैं और आप उनके स्वभाव को ठेस नहीं पहुंचाना चाहते तो उनको भी यही लगेगा कि उनके प्रति आपका एटीट्यूड जो है बहुत अच्छा है उन्हें आपको ही एपिसोड पसंद आएगा देखिए एटीट्यूड होना अच्छी बात है लेकिन अगर को सकारात्मक रूप में ही हो तो ज्यादा बेहतर होता है ना कर आत्मक एटिट्यूड वाले लोगों को कोई पसंद नहीं करता है धन्यवाद
Prashn hai kya eteetyood hona achchha hai dekhie behad achchhee baat hai lekin eteetyood bhee do tarah ke hote hain ham yaanee ki sakaaraatmak bhee ho sakata hai aur nakaaraatmak bhee ho sakata hai dekhie eteetyood ko agar ham hindee mein isaka arth nikaale to vah hota hai drshtikon kisee bhee vyakti ka drshtikon nakaaraatmak bhee ho sakata aur sakaaraatmak drshtikon matalab kisee bhee vyakti ko kisee any ke prati kaisa najariya hai jaisa ki sabhee vyakti yahee kahate hain ki jis prakaar aap mere saath vyavahaar karoge usee prakaar aap ka prateek jo hai drshtikon hoga dekhie agar aap doosaron se hava mein jyaada baaten karana pasand karate hain aapako yah lagata hai ki main hee to hoon sab kuchh hoon aur apanee badaee hamesha karate rahate ho yaanee ki aap mein nakaaraatmak drshtikon hai apane baare mein bhee doosaron ke baare mein bhee to hamesha jab bhee doosaron se mile ek aadar sammaan kee bhaavana se mile aur unase aise baat karen jaise ki aap unake svabhaav ko achchhe jaanate hain aur aap unake svabhaav ko thes nahin pahunchaana chaahate to unako bhee yahee lagega ki unake prati aapaka eteetyood jo hai bahut achchha hai unhen aapako hee episod pasand aaega dekhie eteetyood hona achchhee baat hai lekin agar ko sakaaraatmak roop mein hee ho to jyaada behatar hota hai na kar aatmak etityood vaale logon ko koee pasand nahin karata hai dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
जरूरत से ज्यादा पौधों को पानी देने से क्या क्या नुकसान होते है?Jarurat Se Jyada Paudho Ko Paani Dene Se Kya Kya Nuksan Hote Hai
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
1:15
प्रश्न है जरूरत से ज्यादा पौधों को पानी देने से क्या नुकसान होते हैं दी के पेड़ों की जड़ों में अच्छी तरह से पानी घुस जाए इसके लिए सुबह सुबह पानी डाली है अगर आप दोपहर में पानी डालोगे तो सूरज के घर में कितने पानी को सोख लेगी और पेड़ तक बिल्कुल भी नहीं पहुंच पाएगी खूब सुबह और शाम को पानी डालने से पेड़ अच्छी तरह से पानी सोख लेते हैं कि कुछ पेड़ पौधे अपने आप ही प्रकृति से पानी खींच लेते हैं अगर आपके घर पर भी पौधे हैं जो बिना पानी दे खूब अच्छी तरह खिलते हैं तो अच्छा होगा और उन्हें कम या फिर हफ्ते में दो या तीन बार पानी दें इतनी जरूरत नहीं होती देखिए अगर आपके घर पर आउटडोर वाले पौधे हैं जो उन्हें पानी की जरूरत पड़ेगी अगर पौधे घर के अंदर लगाए हैं तो उन्हें कभी कबार पानी डालें और अगर पौधे बालकनी में है तो मौसम के अनुसार पानी डालें अगर आप ऐसा नहीं करते हैं और आप उन्हें हर वक्त उन्हें भरा रख रहे हैं तो इसमें क्या होगा कि वह पौधे अपने आप सूखने लग जाएंगे और मुरझा जाएंगे क्योंकि आप के पौधों के लिए बिल्कुल सही नहीं होगा तो ऐसे में जो छोटी-छोटी बातें हैं इनका ध्यान रखें
Prashn hai jaroorat se jyaada paudhon ko paanee dene se kya nukasaan hote hain dee ke pedon kee jadon mein achchhee tarah se paanee ghus jae isake lie subah subah paanee daalee hai agar aap dopahar mein paanee daaloge to sooraj ke ghar mein kitane paanee ko sokh legee aur ped tak bilkul bhee nahin pahunch paegee khoob subah aur shaam ko paanee daalane se ped achchhee tarah se paanee sokh lete hain ki kuchh ped paudhe apane aap hee prakrti se paanee kheench lete hain agar aapake ghar par bhee paudhe hain jo bina paanee de khoob achchhee tarah khilate hain to achchha hoga aur unhen kam ya phir haphte mein do ya teen baar paanee den itanee jaroorat nahin hotee dekhie agar aapake ghar par aautador vaale paudhe hain jo unhen paanee kee jaroorat padegee agar paudhe ghar ke andar lagae hain to unhen kabhee kabaar paanee daalen aur agar paudhe baalakanee mein hai to mausam ke anusaar paanee daalen agar aap aisa nahin karate hain aur aap unhen har vakt unhen bhara rakh rahe hain to isamen kya hoga ki vah paudhe apane aap sookhane lag jaenge aur murajha jaenge kyonki aap ke paudhon ke lie bilkul sahee nahin hoga to aise mein jo chhotee-chhotee baaten hain inaka dhyaan rakhen

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
यूट्यूब व्यूज़ बढ़ाने के क्या तरीके हैं?Youtube Views Badhane Ke Kya Tarike Hain
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
2:32
प्रश्न है यूट्यूब न्यूज़ बढ़ाने के क्या तरीके हैं देखें सबसे पहले आपको अपने कंटेंट को दूसरे के कंटेंट से अच्छा और बेहतर बनाना होगा जो चीज़ें दूसरा प्रयोग कर रहा है आप हो सके तो उससे कुछ अलग करने की कोशिश कीजिए हम अपने विवेक के कमेंट को कभी अनदेखा मत कीजिए अपने विवेक के कमेंट को पढ़े और अगर उनका सवाल आपसे कुछ पूछा गया है तो आप उनका रिप्लाई जरूर किया कीजिए आप अपने यूट्यूब चैनल के लिए यदि ब्लॉक बना लेते हैं तो अच्छा होगा इससे आप ब्लॉक पर वीडियो शेयर करके उनका प्रमोशन भी कर सकते हैं और ब्लॉक पर गूगल ऐडसेंस के आग लगाकर मॉर्निंग कर सकते हैं यदि आपकी वर्ष पर फोकस किए बिना टेक्स्ट लाख कर लेते हैं तो इससे आपको कोई फायदा नहीं मिलेगा इसलिए टैक्स के लिए अच्छे की वर्ड चुने की वर्ड आपकी वीडियो से संबंधित होने चाहिए देखिए वीडियो बनाने के बाद उसे रिनेम जरूर दें रिनेम मैं आपको उसी की वर्ड को एंटर करना होगा जिस पर आप का वीडियो बनाया गया है रिनेम करने के बाद ही आपके वीडियो को अपलोड करें बहुत यूट्यूब पर वीडियो बनाने के बाद वीडियो फाइल का नाम चेंज नहीं करते वीडियो रिनेम करने के लिए सिर्फ वीडियो के नियम को एडिट करना होगा कि प्रत्येक यूट्यूब यही चाहता है कि उसके यूट्यूब चैनल बहुत फेमस हो अपने यूट्यूब चैनल को फेमस और पॉपुलर बनाने के लिए आपको कुछ बातों का ध्यान रखना होगा सबसे पहले आपको अपने घर की प्रॉब्लम को हल करना होगा इससे आपके फॉलोवर्स आपके चैनल को पसंद करेंगे आपको चैनल जिस चीज से रिलेटेड है आपको ऐसे ही वीडियो को अपलोड करना होगा जिससे आपकी भी उसको पूरी जानकारी मिल सके आपको अपने यूट्यूब चैनल पर क्वालिटी कंटेंट डालनी भूत लोग सोचते हैं कि सिर्फ मनोरंजन करने के लिए ही वीडियो अपलोड करनी चाहिए तो ऐसा नहीं है आप अपने वीडियो के द्वारा कुछ लोगों को सिखा सकते हैं अगर आपको किसी चीज का ज्ञान है तो आप उसे जिस पर वीडियो बनाएं हम आपको हर रोज एक कंटेंट अपलोड करना है क्योंकि शुरू में आपको और कोई नहीं जानता इसलिए आप रोज कंटेंट डालेंगे तो धीरे-धीरे आपके घर आने लगेंगे रोज कंटेन डाल ऐसे लोग आपके चैनल को पहचानने लगेंगे ज्यादा से ज्यादा अपनी वीडियो को शेयर करें ताकि लोगों ने देखें और आगे से आगे शेयर करें और आप सोशल मीडिया पर छा जाए वीडियो को गूगल सर्च में टॉप पर लाने से आपकी वीडियो पर म्यूजिक बढ़ने लगेंगे यूट्यूब वीडियो को टॉपर लाने के लिए आपको कुछ टिप्स फॉलो करनी होंगी तो जैसे गीत हमने हो गया वीडियो यूट्यूब पर बहुत जरूरी है आपके थर्मल को देखकर ही डिसाइड किया जा सकता है की वीडियो देखनी चाहिए या नहीं धन्यवाद
Prashn hai yootyoob nyooz badhaane ke kya tareeke hain dekhen sabase pahale aapako apane kantent ko doosare ke kantent se achchha aur behatar banaana hoga jo cheezen doosara prayog kar raha hai aap ho sake to usase kuchh alag karane kee koshish keejie ham apane vivek ke kament ko kabhee anadekha mat keejie apane vivek ke kament ko padhe aur agar unaka savaal aapase kuchh poochha gaya hai to aap unaka riplaee jaroor kiya keejie aap apane yootyoob chainal ke lie yadi blok bana lete hain to achchha hoga isase aap blok par veediyo sheyar karake unaka pramoshan bhee kar sakate hain aur blok par googal aidasens ke aag lagaakar morning kar sakate hain yadi aapakee varsh par phokas kie bina tekst laakh kar lete hain to isase aapako koee phaayada nahin milega isalie taiks ke lie achchhe kee vard chune kee vard aapakee veediyo se sambandhit hone chaahie dekhie veediyo banaane ke baad use rinem jaroor den rinem main aapako usee kee vard ko entar karana hoga jis par aap ka veediyo banaaya gaya hai rinem karane ke baad hee aapake veediyo ko apalod karen bahut yootyoob par veediyo banaane ke baad veediyo phail ka naam chenj nahin karate veediyo rinem karane ke lie sirph veediyo ke niyam ko edit karana hoga ki pratyek yootyoob yahee chaahata hai ki usake yootyoob chainal bahut phemas ho apane yootyoob chainal ko phemas aur popular banaane ke lie aapako kuchh baaton ka dhyaan rakhana hoga sabase pahale aapako apane ghar kee problam ko hal karana hoga isase aapake pholovars aapake chainal ko pasand karenge aapako chainal jis cheej se rileted hai aapako aise hee veediyo ko apalod karana hoga jisase aapakee bhee usako pooree jaanakaaree mil sake aapako apane yootyoob chainal par kvaalitee kantent daalanee bhoot log sochate hain ki sirph manoranjan karane ke lie hee veediyo apalod karanee chaahie to aisa nahin hai aap apane veediyo ke dvaara kuchh logon ko sikha sakate hain agar aapako kisee cheej ka gyaan hai to aap use jis par veediyo banaen ham aapako har roj ek kantent apalod karana hai kyonki shuroo mein aapako aur koee nahin jaanata isalie aap roj kantent daalenge to dheere-dheere aapake ghar aane lagenge roj kanten daal aise log aapake chainal ko pahachaanane lagenge jyaada se jyaada apanee veediyo ko sheyar karen taaki logon ne dekhen aur aage se aage sheyar karen aur aap soshal meediya par chha jae veediyo ko googal sarch mein top par laane se aapakee veediyo par myoojik badhane lagenge yootyoob veediyo ko topar laane ke lie aapako kuchh tips pholo karanee hongee to jaise geet hamane ho gaya veediyo yootyoob par bahut jarooree hai aapake tharmal ko dekhakar hee disaid kiya ja sakata hai kee veediyo dekhanee chaahie ya nahin dhanyavaad

#जीवन शैली

Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
1:36
प्रश्न है आप कोलकाता के बारे में ऐसा क्या जानते हैं जिससे ज्यादातर लोग नहीं जानते हैं दिखी कोलकाता के बारे में बहुत कुछ ऐसी चीजें हैं जो काफी लोगों को नहीं पता भारत के पूर्वी राज्य पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता आलीशान शहर है जो अपने अंदर आधुनिकता के साथ-साथ अपने 400 साल पुराने इतिहास को भी समेट कर बैठा हुआ है इसके बारे में दिलचस्प बातें जाने तु कोलकाता भारत का सबसे ज्यादा आबादी वाला शहर है और जनसंख्या के हिसाब से तीसरा सबसे बड़ा शहर है दिल्ली को भारत की राजधानी बनाने से पहले ब्रिटिश शासन में काल में कोलकाता भी भारत की राजधानी रह चुका है कोलकाता को पहले कोलकाता कहा जाता था और ब्रिटिश शासन काल में यह शहर लंदन की तरह बहुत जरूरी था क्षेत्रफल के हिसाब से कोलकाता दिल्ली के बाद दूसरा सबसे बड़ा शहर है इसका क्षेत्रफल 851 वर्ग किलोमीटर है देखिए कोलकाता के 2 सबसे बड़े स्टेशन हावड़ा सियालदह और अभी का कोलकाता स्टेशन पहले का चित्र पुर स्टेशन है उसी का नाम बदलकर कोलकाता स्टेशन रखा गया है भारत का सबसे पुराना चिड़ियाघर कोलकाता में है जिसका नाम है अलीपुर जू कोलकाता का पोलो क्लब दुनिया का सबसे बड़ा क्लब है और सबसे पुराना क्लब भी हम कह सकते हैं हम कोलकाता क्रिकेट क्लब दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा क्रिकेट क्लब है जिसमें 1792 में इसे जो है बनाया गया था भारत का सबसे बड़ा सभी कार्यों की समान होने वाले ग्राउंड का नाम शॉर्ट लेक स्टेडियम है जो कि आपको कोलकाता में देखने को मिलेगा धन्यवाद
Prashn hai aap kolakaata ke baare mein aisa kya jaanate hain jisase jyaadaatar log nahin jaanate hain dikhee kolakaata ke baare mein bahut kuchh aisee cheejen hain jo kaaphee logon ko nahin pata bhaarat ke poorvee raajy pashchim bangaal kee raajadhaanee kolakaata aaleeshaan shahar hai jo apane andar aadhunikata ke saath-saath apane 400 saal puraane itihaas ko bhee samet kar baitha hua hai isake baare mein dilachasp baaten jaane tu kolakaata bhaarat ka sabase jyaada aabaadee vaala shahar hai aur janasankhya ke hisaab se teesara sabase bada shahar hai dillee ko bhaarat kee raajadhaanee banaane se pahale british shaasan mein kaal mein kolakaata bhee bhaarat kee raajadhaanee rah chuka hai kolakaata ko pahale kolakaata kaha jaata tha aur british shaasan kaal mein yah shahar landan kee tarah bahut jarooree tha kshetraphal ke hisaab se kolakaata dillee ke baad doosara sabase bada shahar hai isaka kshetraphal 851 varg kilomeetar hai dekhie kolakaata ke 2 sabase bade steshan haavada siyaaladah aur abhee ka kolakaata steshan pahale ka chitr pur steshan hai usee ka naam badalakar kolakaata steshan rakha gaya hai bhaarat ka sabase puraana chidiyaaghar kolakaata mein hai jisaka naam hai aleepur joo kolakaata ka polo klab duniya ka sabase bada klab hai aur sabase puraana klab bhee ham kah sakate hain ham kolakaata kriket klab duniya ka doosara sabase bada kriket klab hai jisamen 1792 mein ise jo hai banaaya gaya tha bhaarat ka sabase bada sabhee kaaryon kee samaan hone vaale graund ka naam short lek stediyam hai jo ki aapako kolakaata mein dekhane ko milega dhanyavaad

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
मंदिर के नीचे टाइम कैप्सूल क्यों रखा जाता है यह क्या है?Mandir Ke Neeche Taim Capsule Kyun Rakha Jata Hai Yah Kya Hai
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
1:08
प्रश्न है मंदिर के नीचे टाइम कैप्सूल क्यों रखा जाता है यह क्या है जी के टाइम का फुल एक बॉक्स होता है जो किसी भी आकार का हो सकता है आमतौर पर इसे तांबे से बनाया जाता है ताकि मिट्टी में दबा होने के बाद भी यह ज्यादा से ज्यादा वक्त तक टिका रहे वही लोहे से बने वह जंग लगने के कारण खराब होने लगते हैं और उनमें रखी सामग्री के नष्ट होने का डर रहता है किसी भी तरह के केमिकल रिएक्शन से बचा रहने वाला टाइम कैप्सूल इतना मजबूत होता है कि वह हर तरह के मौसम और परिस्थिति में मिट्टी में सुरक्षित रहे पुराने वक्त में भी टाइम कैप्सूल होते थे तब उन्हें कांच के डिब्बे बोतल में रखा जाता था लेकिन अगर बात की जाए कि इसका मकसद लिखी जमीन में काफी गहराई तक दबाने का सीधा उद्देश्य यह है कि सैकड़ों हजारों साल बाद भी उस जगह से जुड़े तथ्य स्टेप रहे जैसे अगर किसी भयंकर आपदा में बहुत कुछ तबाह हो जाए और बहुत सालों बाद जमीन की खुदाई हो तो पुरातत्व को पता चले कि अमुक जगह यह था यानी टाइम कैप्सूल इतिहास का भविष्य के लिए समझाने की कोशिश है राम मंदिर में कैप्सूल दबाने का भी यही मकसद था धन्यवाद
Prashn hai mandir ke neeche taim kaipsool kyon rakha jaata hai yah kya hai jee ke taim ka phul ek boks hota hai jo kisee bhee aakaar ka ho sakata hai aamataur par ise taambe se banaaya jaata hai taaki mittee mein daba hone ke baad bhee yah jyaada se jyaada vakt tak tika rahe vahee lohe se bane vah jang lagane ke kaaran kharaab hone lagate hain aur unamen rakhee saamagree ke nasht hone ka dar rahata hai kisee bhee tarah ke kemikal riekshan se bacha rahane vaala taim kaipsool itana majaboot hota hai ki vah har tarah ke mausam aur paristhiti mein mittee mein surakshit rahe puraane vakt mein bhee taim kaipsool hote the tab unhen kaanch ke dibbe botal mein rakha jaata tha lekin agar baat kee jae ki isaka makasad likhee jameen mein kaaphee gaharaee tak dabaane ka seedha uddeshy yah hai ki saikadon hajaaron saal baad bhee us jagah se jude tathy step rahe jaise agar kisee bhayankar aapada mein bahut kuchh tabaah ho jae aur bahut saalon baad jameen kee khudaee ho to puraatatv ko pata chale ki amuk jagah yah tha yaanee taim kaipsool itihaas ka bhavishy ke lie samajhaane kee koshish hai raam mandir mein kaipsool dabaane ka bhee yahee makasad tha dhanyavaad

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
अश्वगंधा खाने के क्या फायदे हैं?Ashvagandha Khane Ke Kya Fayade Hai
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
0:50
प्रश्न है अश्वगंधा खाने के क्या फायदे हैं देखिए अश्वगंधा काफी बीमारियों से आपको मुक्ति दिलाता है ये आयुर्वेदिक हैं और आपकी शारीरिक समस्याओं को भी जो है अश्वगंधा दूर करता है दी कि अगर आपको तनाव है आजकल जाता है इंसान तनाव जैसी समस्याओं से जूझ रहे हैं इसके कई कारण हो सकते हैं तनाव चिंता मानसिक समस्याओं तो अश्वगंधा का सेवन आप करें इसमें मौजूद औषधीय गुण तनाव को दूर करते हैं अश्वगंधा में एंटी स्क्रीन पर आपसे जो हमें राहत दिलाते हैं अगर आपको नींद की समस्या है कि यानी कि आपको नींद नहीं आती चिंता रहती है तू भी आप अगर आप के सोते समय बिस्तर पर करवट बदल रहे हैं और आपको अच्छी नींद चाहिए है तो भी आप अश्वगंधा का सेवन कर सकते हैं इसके अलावा कोलेस्ट्रोल को कम करने के लिए भी अश्वगंधा का सेवन कर सकते हैं धन्यवाद
Prashn hai ashvagandha khaane ke kya phaayade hain dekhie ashvagandha kaaphee beemaariyon se aapako mukti dilaata hai ye aayurvedik hain aur aapakee shaareerik samasyaon ko bhee jo hai ashvagandha door karata hai dee ki agar aapako tanaav hai aajakal jaata hai insaan tanaav jaisee samasyaon se joojh rahe hain isake kaee kaaran ho sakate hain tanaav chinta maanasik samasyaon to ashvagandha ka sevan aap karen isamen maujood aushadheey gun tanaav ko door karate hain ashvagandha mein entee skreen par aapase jo hamen raahat dilaate hain agar aapako neend kee samasya hai ki yaanee ki aapako neend nahin aatee chinta rahatee hai too bhee aap agar aap ke sote samay bistar par karavat badal rahe hain aur aapako achchhee neend chaahie hai to bhee aap ashvagandha ka sevan kar sakate hain isake alaava kolestrol ko kam karane ke lie bhee ashvagandha ka sevan kar sakate hain dhanyavaad

#खेल कूद

bolkar speaker
क्रिकेट के मैदान पर विज्ञापन कैसे बनाए जाते हैं?Cricket Ke Maidan Par Vigyapan Kaise Banaye Jate Hain
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
0:58
प्रश्न है हम क्रिकेट के मैदान पर विज्ञापन कैसे बनाए जाते हैं देखिए उन्हें कुछ विशेष कोण के प्रकार में ऐसे दिखाया जाता है कि वह ऐसा लगता है कि सचमुच 3D हैं लेकिन आज के लिए कंप्यूटर प्रौद्योगिकी का उपयोग करके इन्हें विज्ञापन का आकार दिया जाता है कुछ अच्छी तकनीक का उपयोग करके इन्हें अलग से वीडियो में सम्मिलित कर दिया जाता है और उसे इस प्रकार दिखाया जाता है कि वास्तव में क्रिकेट के मैदान पर बने हुए लगते हैं और इन्हें इस प्रकार चित्रित किया जाता है यह वास्तव में लगते हैं कि इनके ऊपर खिलाड़ी चल रहे हैं पर यह वास्तविकता नहीं होती है अद्भुत तकनीक है विज्ञापन की छवि मैदान और खिलाड़ी के बीच तरित होती है जो उसके ऊपर घूमते रहते हैं यह विज्ञापन उस मैच के स्पॉन्सर के होते हैं जो कि क्रिकेट के मैदान के बीचोबीच बने होते हैं जिन पर खिलाड़ी आराम से चलते रहते हो ना तो खराब होते हैं और ना ही क्रिकेट खेलने वालों का इस चीज पर प्रभाव पड़ता है धन्यवाद
Prashn hai ham kriket ke maidaan par vigyaapan kaise banae jaate hain dekhie unhen kuchh vishesh kon ke prakaar mein aise dikhaaya jaata hai ki vah aisa lagata hai ki sachamuch 3d hain lekin aaj ke lie kampyootar praudyogikee ka upayog karake inhen vigyaapan ka aakaar diya jaata hai kuchh achchhee takaneek ka upayog karake inhen alag se veediyo mein sammilit kar diya jaata hai aur use is prakaar dikhaaya jaata hai ki vaastav mein kriket ke maidaan par bane hue lagate hain aur inhen is prakaar chitrit kiya jaata hai yah vaastav mein lagate hain ki inake oopar khilaadee chal rahe hain par yah vaastavikata nahin hotee hai adbhut takaneek hai vigyaapan kee chhavi maidaan aur khilaadee ke beech tarit hotee hai jo usake oopar ghoomate rahate hain yah vigyaapan us maich ke sponsar ke hote hain jo ki kriket ke maidaan ke beechobeech bane hote hain jin par khilaadee aaraam se chalate rahate ho na to kharaab hote hain aur na hee kriket khelane vaalon ka is cheej par prabhaav padata hai dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
रेलवे लाइन पर सि/फा का क्या मतलब होता है?Railway Line Par Cf Ka Kya Matlab Hota Hai
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
0:34
प्रश्न है रेलवे लाइन पर तीफा का क्या मतलब होता है फीफा का अर्थ है चीटी फाटक और आपने डब्ल्यू है आज इसका मतलब है टीटी स्तर पर यह बोर्ड लगाने का अर्थ मकसद यह है कि रेलवे ड्राइवर मुक्त रूप से सिटी बजाए क्योंकि आगे मानवरहित फाटक है अर्थात आगे आने वाले फाटक पर रेल विभाग द्वारा कोई डेट और गेट में नहीं है अंतर्ध्यान ड्राइवर के लिए गेट निर्देश बोर्ड है कि गाड़ी की सीटी लगाकर बजाते रहे ताकि कोई दुर्घटना घटित ना हो धन्यवाद
Prashn hai relave lain par teepha ka kya matalab hota hai pheepha ka arth hai cheetee phaatak aur aapane dablyoo hai aaj isaka matalab hai teetee star par yah bord lagaane ka arth makasad yah hai ki relave draivar mukt roop se sitee bajae kyonki aage maanavarahit phaatak hai arthaat aage aane vaale phaatak par rel vibhaag dvaara koee det aur get mein nahin hai antardhyaan draivar ke lie get nirdesh bord hai ki gaadee kee seetee lagaakar bajaate rahe taaki koee durghatana ghatit na ho dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
क्या कोई ऐप है जो आप हर दिन कुछ पैसे कमाने के लिए उपयोग कर सकते हैं?Kya Koi App Hai Jo Aap Har Din Kuch Paise Kamane Ke Liye Upyog Kar Sakte Hai
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
2:30
प्रश्न है कि क्या कोई ऐप है जो आप हर दिन कुछ पैसे कमाने के लिए उपयोग कर सकते हैं दुनियाभर के लोग पैसा कमाने के लिए दिन रात मेहनत करते हैं कोई शारीरिक श्रम करता है तो कोई बौद्धिक श्रम सभी अपनी रोजमर्रा की जरूरत को पूरा करने के लिए पैसा कमाने में लगे हैं लिखित मेहंदी दुनिया में इंटरनेट एक ऐसी जगह है जहां बिना कोई मेहनत के हजारों रुपए कमा रहे हैं वह भी घर बैठे इंटरनेट पर ऐसे अनेक वेबसाइट है जहां से अब घर बैठे भी पैसा कमा सकते हैं लेकिन सबसे पहले बात की जाए क्वाड्रन क्वाड्रन एक ऐसा ऐप है जिसके इस्तेमाल से आप अपनी बोरिंग जिंदगी को थोड़ा रोमांटिक बना सकते हैं इस आपके द्वारा आपको रोज नई टाक दिए जाएंगे जिससे पूरे करने से आप पैसे कमा सकते हैं आपकी हर मिशन को पूरा करने के बाद नहीं टाइप जो है दिए जाएंगे जो कि आपकी कौशल और अनुभव पर आधारित होंगे जैसे-जैसे आप तक पूरा करते रहेंगे आपको पॉइंट मिलते रहेंगे जिससे आप अपने पेटीएम में ट्रांसफर करवा सकते हैं हम और आप बताना चाहूंगी कि पॉइंट सुपर होंगे तभी आप इन्हें पेटीएम अकाउंट में ट्रांसफर कर सकते हैं इसके अलावा क्रोनॉल यह आपको ऑनलाइन दुनिया से ऑफलाइन दुनिया में ले जाता है यह आपको कुंड रेस्टोरेंट्स पाली जाने को कहता है जो आपके साथ साझेदार है जब आप उनके द्वारा कही जाने पर खाना खाने शॉपिंग करने मूवी देखने जाते हैं तो आपको अपने बिल की फोटो अपलोड करनी होती है जिससे आपको कैशबैक मिलेगा इसके अलावा फ्लाइट जो है अगर आपको अपने फोन के बोरिंग तीन लोक से और सुविधा होती है हम तो यहां आपके लिए संजीवनी बूटी हो सकता है इस ऐप का इस्तेमाल कर आप चाहे तो अपने जेब खर्च भी निकाल सकते हैं यह आपके फोन में तीन लोग को चलता फिरता विज्ञापन बॉक्स बना देगा इस ऐप के जरिए आपको हर विज्ञापन देखने पर क्या रेट मिलती है जो पॉइंट की तरह काम करते हैं हर हजार कैरेट पर आपको $1 मिलता है जो करीब 68 रुपए के बराबर होता है आप इन पैसों को भी 15 दिन में अपने पेपर अकाउंट में ट्रांसफर कर सकते हैं अब बात करते हैं एमसेंट कि पहले क्यों एमसेंट एप्लीकेशन थी जिसे बाद में ब्राउज़र में बदल दिया गया है एमसेंट ब्राउजर भी एप्लीकेशन की तरह काम करता है इसमें आपको रैपर करना होता है जब आप इसको आगे इस्तेमाल करेंगे तो आपको बहुत से एप्लीकेशन इंस्टॉल करने होंगे जिससे आपको पॉइंट मिलेंगे यह बहुत ही बहू यानी है यहां आपके एड्रेस पर एप्लीकेशन इंस्टॉल करने पर ही नहीं बल्कि विज्ञापन देकर भी पैसे कमा सकते हैं धन्यवाद
Prashn hai ki kya koee aip hai jo aap har din kuchh paise kamaane ke lie upayog kar sakate hain duniyaabhar ke log paisa kamaane ke lie din raat mehanat karate hain koee shaareerik shram karata hai to koee bauddhik shram sabhee apanee rojamarra kee jaroorat ko poora karane ke lie paisa kamaane mein lage hain likhit mehandee duniya mein intaranet ek aisee jagah hai jahaan bina koee mehanat ke hajaaron rupe kama rahe hain vah bhee ghar baithe intaranet par aise anek vebasait hai jahaan se ab ghar baithe bhee paisa kama sakate hain lekin sabase pahale baat kee jae kvaadran kvaadran ek aisa aip hai jisake istemaal se aap apanee boring jindagee ko thoda romaantik bana sakate hain is aapake dvaara aapako roj naee taak die jaenge jisase poore karane se aap paise kama sakate hain aapakee har mishan ko poora karane ke baad nahin taip jo hai die jaenge jo ki aapakee kaushal aur anubhav par aadhaarit honge jaise-jaise aap tak poora karate rahenge aapako point milate rahenge jisase aap apane peteeem mein traansaphar karava sakate hain ham aur aap bataana chaahoongee ki point supar honge tabhee aap inhen peteeem akaunt mein traansaphar kar sakate hain isake alaava kronol yah aapako onalain duniya se ophalain duniya mein le jaata hai yah aapako kund restorents paalee jaane ko kahata hai jo aapake saath saajhedaar hai jab aap unake dvaara kahee jaane par khaana khaane shoping karane moovee dekhane jaate hain to aapako apane bil kee photo apalod karanee hotee hai jisase aapako kaishabaik milega isake alaava phlait jo hai agar aapako apane phon ke boring teen lok se aur suvidha hotee hai ham to yahaan aapake lie sanjeevanee bootee ho sakata hai is aip ka istemaal kar aap chaahe to apane jeb kharch bhee nikaal sakate hain yah aapake phon mein teen log ko chalata phirata vigyaapan boks bana dega is aip ke jarie aapako har vigyaapan dekhane par kya ret milatee hai jo point kee tarah kaam karate hain har hajaar kairet par aapako $1 milata hai jo kareeb 68 rupe ke baraabar hota hai aap in paison ko bhee 15 din mein apane pepar akaunt mein traansaphar kar sakate hain ab baat karate hain emasent ki pahale kyon emasent epleekeshan thee jise baad mein brauzar mein badal diya gaya hai emasent braujar bhee epleekeshan kee tarah kaam karata hai isamen aapako raipar karana hota hai jab aap isako aage istemaal karenge to aapako bahut se epleekeshan instol karane honge jisase aapako point milenge yah bahut hee bahoo yaanee hai yahaan aapake edres par epleekeshan instol karane par hee nahin balki vigyaapan dekar bhee paise kama sakate hain dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
भारत के संविधान की उद्देशिका के बारे में बताओ?Bharat Ke Sanvidhan Ki Uddeshika Ke Baare Me Batao
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
1:11
प्रश्न है कि भारत के संविधान की उद्देशिका के बारे में बताओ दिखे भारतीय संविधान की उद्देशिका ऑस्ट्रेलिया संविधान से प्रभावित तथा विश्व में सर्वश्रेष्ठ मानी जाती है उद्देशिका संविधान का सार मानी जाती है जो उसके लक्ष्य प्रकट करती हैं संविधान का दर्शन भी इसके माध्यम से ही प्राप्त होता है संविधान किन आदर्शों आकांक्षाओं को प्रकट करता है इसका निर्धारण भी उद्देश्य का सही होता है सर्वोच्च न्यायालय के मतानुसार उद्देश्य का को प्रयोग संविधान निर्माताओं के दिमाग में झांकने और उनके उद्देश्यों को जानने में प्रयोग किया जा सकता है उद्देश्य का यह घोषणा करती है कि संविधान अपनी शक्ति सीधे जनता से प्राप्त करता है इसे कहानियां हैं हम भारत के लोग से प्रारंभ होती है सिंह बनाम भारत संघ के बाद में कहा गया था कि संविधान सभा भारतीय जनता का सीधा प्रतिनिधित्व नहीं करती है तथा संविधान विधि विशेष अनुकंपा प्राप्त नहीं कर सकता परंतु न्यायालय ने खारिज करते हुए संविधान को सर्वोपरि माना है जिस पर कोई प्रश्न नहीं उठाया जा सकता धन्यवाद
Prashn hai ki bhaarat ke sanvidhaan kee uddeshika ke baare mein batao dikhe bhaarateey sanvidhaan kee uddeshika ostreliya sanvidhaan se prabhaavit tatha vishv mein sarvashreshth maanee jaatee hai uddeshika sanvidhaan ka saar maanee jaatee hai jo usake lakshy prakat karatee hain sanvidhaan ka darshan bhee isake maadhyam se hee praapt hota hai sanvidhaan kin aadarshon aakaankshaon ko prakat karata hai isaka nirdhaaran bhee uddeshy ka sahee hota hai sarvochch nyaayaalay ke mataanusaar uddeshy ka ko prayog sanvidhaan nirmaataon ke dimaag mein jhaankane aur unake uddeshyon ko jaanane mein prayog kiya ja sakata hai uddeshy ka yah ghoshana karatee hai ki sanvidhaan apanee shakti seedhe janata se praapt karata hai ise kahaaniyaan hain ham bhaarat ke log se praarambh hotee hai sinh banaam bhaarat sangh ke baad mein kaha gaya tha ki sanvidhaan sabha bhaarateey janata ka seedha pratinidhitv nahin karatee hai tatha sanvidhaan vidhi vishesh anukampa praapt nahin kar sakata parantu nyaayaalay ne khaarij karate hue sanvidhaan ko sarvopari maana hai jis par koee prashn nahin uthaaya ja sakata dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या ब्लॉगिंग में करिअर हो सकता है?Kya Blogging Me Carrer Ho Sakta Hai
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
1:46
प्रश्न है क्या ब्लॉगिंग में कैरियर हो सकता है देखिए हर रोज लाखों करोड़ों लोग अपनी प्रॉब्लम के सलूशन लेने के लिए गूगल या फिर अलग-अलग सर्च इंजन में सर्च करते हैं इसका मतलब यह नहीं कि सर्च इंजन लोगों के लिए प्रॉब्लम के सलूशन रखता है इसका काम बच्ची है कि अलग-अलग ब्लॉग और वेबसाइट से इंफॉर्मेशन कलेक्ट करके आपको उनकी लिंक दिखाता है दिखी हम यह कह सकते हैं कि लोग अपनी जानकारी शेयर करने के लिए ब्लॉगिंग करते हैं इससे दोनों रीडर्स ब्लॉग ब्लॉगर की दोनों को ही फायदा होता है देखिए सबसे पहले यह जानना जरूरी है कि ब्लॉक होता क्या है ब्लू गया असल में ऐसा वेबसाइट होता है जिसे निरंतर अपडेट किया जाता है वहीं इसमें नए कंटेंट अक्सर पब्लिश किए जाते हैं ब्लॉगर के द्वारा ब्लॉक का एक इनफॉर्मल या कन्वर्सेशन स्टाइल होता है यानी कि आम बातचीत करने वाली शैली वह इसका उद्देश्य ज्यादा से ज्यादा लोगों को अपनी और आकर्षित करना भी होता दी की अगर बात की जाए इसके फायदों की देखी सुनने में भले ही आपके कानों को बहुत अच्छा लग रहा होगा लेकिन प्रोफेशनल ब्लॉगर्स महीने के लाखों रुपए कमाते हैं लेकिन सच्चाई इतनी हंसी नहीं है यह प्रोफेशनल ब्लॉगर की जिंदगी इतनी आरामदायक भी नहीं है जितनी की बोली जाती है इस आरामदायक जिंदगी के पीछे बहुत से अलग-अलग तिल का होना कई कई घंटों की मेहनत रात रात भर जागना काफी कुछ हो सकता है धीरे-धीरे ज्यादा से ज्यादा लोग ऑनलाइन आ रहे हैं ऐसे में नए कंटेंट की डिमांड जो है दिन प्रतिदिन बढ़ रही है इसलिए यदि आप भी प्रोफेशनल ब्लॉगर बनना चाहते हैं तब आप कड़ी मेहनत कीजिए और अपनी चाची जी से अपना मुकाम पा सकते हैं धन्यवाद
Prashn hai kya bloging mein kairiyar ho sakata hai dekhie har roj laakhon karodon log apanee problam ke salooshan lene ke lie googal ya phir alag-alag sarch injan mein sarch karate hain isaka matalab yah nahin ki sarch injan logon ke lie problam ke salooshan rakhata hai isaka kaam bachchee hai ki alag-alag blog aur vebasait se imphormeshan kalekt karake aapako unakee link dikhaata hai dikhee ham yah kah sakate hain ki log apanee jaanakaaree sheyar karane ke lie bloging karate hain isase donon reedars blog blogar kee donon ko hee phaayada hota hai dekhie sabase pahale yah jaanana jarooree hai ki blok hota kya hai bloo gaya asal mein aisa vebasait hota hai jise nirantar apadet kiya jaata hai vaheen isamen nae kantent aksar pablish kie jaate hain blogar ke dvaara blok ka ek inaphormal ya kanvarseshan stail hota hai yaanee ki aam baatacheet karane vaalee shailee vah isaka uddeshy jyaada se jyaada logon ko apanee aur aakarshit karana bhee hota dee kee agar baat kee jae isake phaayadon kee dekhee sunane mein bhale hee aapake kaanon ko bahut achchha lag raha hoga lekin propheshanal blogars maheene ke laakhon rupe kamaate hain lekin sachchaee itanee hansee nahin hai yah propheshanal blogar kee jindagee itanee aaraamadaayak bhee nahin hai jitanee kee bolee jaatee hai is aaraamadaayak jindagee ke peechhe bahut se alag-alag til ka hona kaee kaee ghanton kee mehanat raat raat bhar jaagana kaaphee kuchh ho sakata hai dheere-dheere jyaada se jyaada log onalain aa rahe hain aise mein nae kantent kee dimaand jo hai din pratidin badh rahee hai isalie yadi aap bhee propheshanal blogar banana chaahate hain tab aap kadee mehanat keejie aur apanee chaachee jee se apana mukaam pa sakate hain dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
आपकी अब तक कि जीवन को सबसे बड़ी सीख क्या रही?Aapki Ab Tak Ki Jeevan Ko Sabse Badi Seekh Kya Rahi
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
1:04
प्रश्न है आप की अब तक की जीवन की सबसे बड़ी चीज क्या रही है दी कि मेरे जीवन की अब तक सबसे बड़ी सीख यह सबक भी कह सकते हैं वह खुद पर विश्वास आप को अन्य सभी के बीच सबसे अच्छा नहीं होना चाहिए लेकिन यदि आप सोए होंगे तो आप अपने सबसे सबसे अच्छे होंगे लेकिन आश्चर्य यह है कि हम जीवन में सब पर विश्वास करते हैं और खुद को ही भूल जाते हैं खुद को कैसे खुश रखना है खुद पर कैसे विश्वास रखना है इस जीवन में हर कोई भुला देता है देखिए वास्तव में हम दूसरों के लिए खुशियां ढूंढते ढूंढते खुद की खुशियों पर कभी कभी ध्यान भी नहीं देती हैं और यह नहीं सोचते हैं कि हम इस दुनिया में आए हैं किसी ना किसी लक्ष्य की वजह से आए हैं तू ऐसे में मैं अब तक जितना भी जीवन जी चुकी हूं मैंने उससे केवल यही सीख ली है कि अगर आप दूसरों से ज्यादा अगर खुद पर बर रखेंगे तो आप एक बेहतर जीवन जी सकते हैं धन्यवाद
Prashn hai aap kee ab tak kee jeevan kee sabase badee cheej kya rahee hai dee ki mere jeevan kee ab tak sabase badee seekh yah sabak bhee kah sakate hain vah khud par vishvaas aap ko any sabhee ke beech sabase achchha nahin hona chaahie lekin yadi aap soe honge to aap apane sabase sabase achchhe honge lekin aashchary yah hai ki ham jeevan mein sab par vishvaas karate hain aur khud ko hee bhool jaate hain khud ko kaise khush rakhana hai khud par kaise vishvaas rakhana hai is jeevan mein har koee bhula deta hai dekhie vaastav mein ham doosaron ke lie khushiyaan dhoondhate dhoondhate khud kee khushiyon par kabhee kabhee dhyaan bhee nahin detee hain aur yah nahin sochate hain ki ham is duniya mein aae hain kisee na kisee lakshy kee vajah se aae hain too aise mein main ab tak jitana bhee jeevan jee chukee hoon mainne usase keval yahee seekh lee hai ki agar aap doosaron se jyaada agar khud par bar rakhenge to aap ek behatar jeevan jee sakate hain dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या चेहरे पर जैतून का तेल लगाना इसे स्वस्थ और चमकीला रखता है?Kya Chehre Par Jaitun Ka Tel Lagana Ise Swasth Or Chamkeela Rakhta Hai
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
1:13
प्रश्न है क्या चेहरे पर जैतून का तेल लगाना स्वस्थ और चमकीला रखेगा की त्वचा को सुंदर और चमकदार बनाने में जैतून का तेल लाभकारी साबित होता है जैतून के तेल में विटामिन है जो त्वचा को स्वस्थ बनाए रखने में काफी मदद करता है इसलिए माना जा सकता है कि चमकती त्वचा के लिए जैतून का तेल फायदेमंद है जैतून के तेल में एंटीऑक्सीडेंट गुण मौजूद हैं जो फ्री रेडिकल्स से लड़कर त्वचा की कोशिकाओं को स्वस्थ रखता है जैतून के तेल को प्राकृतिक मोस्ट आज अभी हम क्या सकते हैं यह त्वचा में नमी बनाकर रखता है जिससे रूखापन से त्वचा को होने वाला जो नुकसान हुआ चेहरे को नहीं होगा एक्स्ट्रा वर्जिन ऑयल में एंटी एजिंग गुण मौजूद होता है यह कोशिश ऐसे करता है कि इसका जो स्तर है वह अच्छे से काम करता है और यह अपने कार्य को सही आकार व्यवस्थित रूप से करता है जिसकी वजह से हमारी जो त्वचा है वह बड़े ही जमा दिखती हैं जैतून के तेल में एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी प्लेनेटरी गुण होता है जिसके कारण त्वचा की कोशिकाओं की प्राकृतिक रूप से मरम्मत होती रहती है और यह हमारे चेहरे को चमकदार भी बनाता है उस वक्त भी रखता है धन्यवाद
Prashn hai kya chehare par jaitoon ka tel lagaana svasth aur chamakeela rakhega kee tvacha ko sundar aur chamakadaar banaane mein jaitoon ka tel laabhakaaree saabit hota hai jaitoon ke tel mein vitaamin hai jo tvacha ko svasth banae rakhane mein kaaphee madad karata hai isalie maana ja sakata hai ki chamakatee tvacha ke lie jaitoon ka tel phaayademand hai jaitoon ke tel mein enteeokseedent gun maujood hain jo phree redikals se ladakar tvacha kee koshikaon ko svasth rakhata hai jaitoon ke tel ko praakrtik most aaj abhee ham kya sakate hain yah tvacha mein namee banaakar rakhata hai jisase rookhaapan se tvacha ko hone vaala jo nukasaan hua chehare ko nahin hoga ekstra varjin oyal mein entee ejing gun maujood hota hai yah koshish aise karata hai ki isaka jo star hai vah achchhe se kaam karata hai aur yah apane kaary ko sahee aakaar vyavasthit roop se karata hai jisakee vajah se hamaaree jo tvacha hai vah bade hee jama dikhatee hain jaitoon ke tel mein entee okseedent aur entee plenetaree gun hota hai jisake kaaran tvacha kee koshikaon kee praakrtik roop se marammat hotee rahatee hai aur yah hamaare chehare ko chamakadaar bhee banaata hai us vakt bhee rakhata hai dhanyavaad

#जीवन शैली

Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
2:35
प्रश्न है कि ब्लॉगिंग स्टार्ट करनी है तो क्या करना चाहिए देखिए कुछ बातों का आपको बिल्कुल ध्यान रखना होगा आज के समय में मोटोव्लॉगर्स जल्दबाजी में कुछ ऐसी गलतियां कर बैटिंग की वजह से उसके बाद मैं परेशान होना पड़ता है तू मैं कुछ तरीके बताऊंगी कि आपको ब्लॉक बनाने से पहले किन चीजों का ध्यान रखना होगा और कुछ टिप्स भी आपको ध्यान रखने होंगे उनके बारे में कुछ पता नहीं है तो ब्लॉक कर ही जानकारी ले सकते हैं अब बात करते हैं ब्लॉग बनाने से पहले ध्यान देने वाली कुछ जरूरी बातें आप कोई ब्लॉग शुरू करने से पहले अपने माइंड को सेट करना होगा कि एक अपना गोल बनाना होगा कि आपको क्या करना है किस कैटेगरी किस टॉपिक पर लिखना है अगर आप लोगों को सही ढंग से करना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले अच्छा प्लेटफार्म चुनना होगा जिस पर आप काम कर सके जैसे वर्डप्रेस ओं ब्लॉगर एक्टर अपने ब्लॉग को दूसरों से हटकर बनाने के बजाय एक नई पहचान दे एक यूनिट 2 मिन के साथ लोगों की शुरुआत करें साथ ही कुछ पैसे भी सेंड करें जिससे वह अपने ब्लॉग को अच्छा बना पाए आपके पास पैसे नहीं है इन्वेस्ट करने के लिए तो ब्लॉगर पर अब गूगल की फ्री होस्टिंग के साथ एक अच्छे रिस्पॉन्स टीम के साथ ब्लॉक बनाने की शुरुआत कीजिए ब्लॉक परफेक्ट लुक दे उसकी कस्टमर सेशन अच्छे से करें जितना हो सके उसे यूजर फ्रेंडली बनाए देखिए यह सब करने के बाद बारी आती है ब्लॉग पोस्ट कंटेंट कि अपने कंटेंट में जान डालने की कोशिश कीजिए मतलब गर्लफ्रेंड ही लिखिए जो लोगों को पसंद आए और वह आपके ब्लॉग को रेगुलर विजिट करें जानकारी जो आपको ज्यादा ध्यान देना चाहिए अब बात करते हैं कुछ इंपोर्टेंट टिप्स की जुगत होते हैं बिजनेस के लिए सबसे अच्छा प्लान ब्लॉगर ऐप है यह कह लें कि इसमें लोगों के पास अगर इन्वेस्ट करने के लिए बिल्कुल भी पैसे नहीं है तो आप लोग हैं पर आसानी से फ्री में ब्लॉक बना सकते हैं क्योंकि ब्लॉगर फ्री होस्टिंग प्रोवाइडर करवाता है जिस पर आज लाखों लोग ब्लॉक गुरून कर रहे हैं ऐसा नहीं है कि यह अच्छा नहीं है इस पर भी आप एक अच्छा थीम सुनकर अपने जो ब्लॉग को एक डिजाइन दे सकते हैं कुछ नया कंटेंट दे सकते हैं तो इन चीजों का आपको ध्यान रखना होगा जब भी आप लोग स्टार्ट करें धन्यवाद
Prashn hai ki bloging staart karanee hai to kya karana chaahie dekhie kuchh baaton ka aapako bilkul dhyaan rakhana hoga aaj ke samay mein motovlogars jaldabaajee mein kuchh aisee galatiyaan kar baiting kee vajah se usake baad main pareshaan hona padata hai too main kuchh tareeke bataoongee ki aapako blok banaane se pahale kin cheejon ka dhyaan rakhana hoga aur kuchh tips bhee aapako dhyaan rakhane honge unake baare mein kuchh pata nahin hai to blok kar hee jaanakaaree le sakate hain ab baat karate hain blog banaane se pahale dhyaan dene vaalee kuchh jarooree baaten aap koee blog shuroo karane se pahale apane maind ko set karana hoga ki ek apana gol banaana hoga ki aapako kya karana hai kis kaitegaree kis topik par likhana hai agar aap logon ko sahee dhang se karana chaahate hain to aapako sabase pahale achchha pletaphaarm chunana hoga jis par aap kaam kar sake jaise vardapres on blogar ektar apane blog ko doosaron se hatakar banaane ke bajaay ek naee pahachaan de ek yoonit 2 min ke saath logon kee shuruaat karen saath hee kuchh paise bhee send karen jisase vah apane blog ko achchha bana pae aapake paas paise nahin hai invest karane ke lie to blogar par ab googal kee phree hosting ke saath ek achchhe rispons teem ke saath blok banaane kee shuruaat keejie blok paraphekt luk de usakee kastamar seshan achchhe se karen jitana ho sake use yoojar phrendalee banae dekhie yah sab karane ke baad baaree aatee hai blog post kantent ki apane kantent mein jaan daalane kee koshish keejie matalab garlaphrend hee likhie jo logon ko pasand aae aur vah aapake blog ko regular vijit karen jaanakaaree jo aapako jyaada dhyaan dena chaahie ab baat karate hain kuchh importent tips kee jugat hote hain bijanes ke lie sabase achchha plaan blogar aip hai yah kah len ki isamen logon ke paas agar invest karane ke lie bilkul bhee paise nahin hai to aap log hain par aasaanee se phree mein blok bana sakate hain kyonki blogar phree hosting provaidar karavaata hai jis par aaj laakhon log blok guroon kar rahe hain aisa nahin hai ki yah achchha nahin hai is par bhee aap ek achchha theem sunakar apane jo blog ko ek dijain de sakate hain kuchh naya kantent de sakate hain to in cheejon ka aapako dhyaan rakhana hoga jab bhee aap log staart karen dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
2:07
प्रश्न है एक स्मार्टफोन लेने से पहले आप उस स्मार्टफोन में क्या-क्या विशेषताएं देखते हैं सबसे पहले नंबर पर आती है डिस्प्ले बाजार में बड़ी और एक तू एक डिस्प्ले वाले बिजली स्मार्टफोन उपलब्ध है इनकी स्क्रीन साइज 5 पॉइंट 3 इंच से लेकर 6 पॉइंट 2 इंच तक है अगर तुझ से पूर्ण बजट फोन की बात की जाए तो इसकी स्क्रीन कम से कम 4 पॉइंट 5 से लेकर 5 तक होनी चाहिए इसके बाद कहते हैं कि जो प्रोसेसर होता है अगर आप मल्टी टास्किंग है आपको दमदार तुषार वाला फोन ही चुनना चाहिए यह देखेगी फोन में डुअल कोरिया कोड को प्रशस्त है या नहीं है इनके अलावा अन्य प्रशासन वाले फोन कई बार एक साथ कई काम करने के वक्त हैंग हो जाते हैं तो ऐसी परेशानी से बचने के लिए एक अच्छा फोन होना चाहिए आपके जरूरत के हिसाब से व्यायाम का होना चाहिए रैम आपकी जरूरत के हिसाब से होनी चाहिए क्योंकि राम को बढ़ाया नहीं जा सकता क्वॉड कोर प्रोसेसर के साथ 1GB राम का मतलब होता है कि कौन हैंग होगा कम फीचर वाले फोन में भी कम से कम 2GB रैम होनी चाहिए आजकल 3GB 4GB राम आम है इसलिए कोशिश करेंगे अधिक जीबी रैम वाले फोन को ही खरीदें जिसमें इंटरनल स्टोरेज भी कम से कम 32GB होनी चाहिए अब बात करें कैमरे की बिना कैमरे के तो अब स्मार्टफोन का मतलब ही नहीं बनता आप फोटोग्राफी के शौकीन है या नहीं इससे कोई फर्क नहीं पड़ता स्मार्ट फोन में कैमरा होना ही चाहिए फोन में रीयर कैमरा कम से कम 8 मेगापिक्सल का तो होना ही चाहिए और बैटरी फोन की लाइफ लाइन उसके बैटरी है अगर आपके फोन की बैटरी अच्छी नहीं है तो कितना भी हाईटेक अच्छा क्यों ना हो तो वह काम नहीं करेगा इसलिए याद रखेगी हमेशा 25 से अधिक क्षमता वाली बैटरी की लेनी चाहिए सब से आग्रह सबसे जरूरी है कि ऑपरेटिंग सिस्टम अगर आम बजट फोन खरीद रहे हैं तो आपको हमेशा एंड्रॉयड फोन ही खरीदना चाहिए क्योंकि बजट सेगमेंट में है सफल ऑपरेटिंग सिस्टम है एंड्राइड के वर्जन के बारे में जरूर पता करना चाहिए धन्यवाद

#जीवन शैली

bolkar speaker
सब कुछ पा लेने के बाद भी इंसान संतुष्ट क्यों नहीं है?Sab Kuch Pa Lene Ke Bad Bhe Insaan Santusht Kyun Nahin Hai
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
1:11
प्रश्न है सब कुछ पा लेने के बाद भी इंसान संतुष्ट क्यों नहीं है क्योंकि उसके पास मन में संतोष जगाने वाली शक्ति का अभाव है जब तक वह से प्रार्थना कर ले या प्राप्त करने की कोशिश ना करें तब तक वह असंतुष्ट ही रहेगा लेकिन कलयुग में नकारात्मकता बहुत है दूसरी तरफ दुनिया इतनी तेज हो गई है कि मनुष्य के पास फुर्सत भी नहीं होती क्यों अपने आप को संतुष्ट रख सके इंसान जन्म से ही जिज्ञासु होता है जो प्राप्त होता है उससे उसे खुशी नहीं मिलती इंसान के अंदर एक अधूरापन होता है जिसको वह पैसे शिक्षा शक्ति भौतिक साधनों से भरने की कोशिश करता है उसका अधूरापन इसलिए है कि मन चंचल है और वह सब पाने के बाद भी मानसिक शांति को प्राप्त नहीं हो पाता और आपको पता ही होगा जो इंसान का नेचर है वह ऐसा बना हुआ है कि वह कभी खुशी नहीं रहना चाहता बल्कि उसे तकलीफ में रहना ज्यादा अच्छा लगता है तू कितना भी खुश हो कितने ही के लिए कुछ ना हो उन पलों में भी कुछ ऐसा सोच लेता है यह ढूंढ लेता है जिसके बाद फिर से उसे कुछ ना कुछ पाने की इच्छा हो जाती है धन्यवाद

#रिश्ते और संबंध

Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
3:14
प्रश्न है मैं बहुत इमोशनल लड़की हूं जब भी मुझे कोई कुछ बोलता है तो वह बात हमेशा दिमाग में घूमती रहती है देखिए आपका बहुत अधिक सोचना भी आपके लिए हानिकारक हो सकता है इमोशंस तुम्हारी भावनाएं हमारी जिंदगी का एक अहम हिस्सा होती है जिससे हम बच नहीं सकते और सबसे ज्यादा जरूरी है कि भावनाओं पर काबू पाना आप में से बहुत ऐसे भी होंगे जो छोटी-छोटी बातों पर भड़क जाते हैं परेशान हो जाते हैं यह कभी कबार बेबस हो जाते हैं तो जो इमोशंस पर नियंत्रण रखना बेहद जरूरी है आपको यह सुनकर थोड़ी बहुत हैरानी होगी कि आपकी बॉडी लैंग्वेज से पता लगाया जा सकता है कि आप कैसा महसूस करते हैं जिस तरह कि आप सोच रखते हैं वह आपके शरीर तक जाता है और आप वैसा ही मुंह करते हैं मान लो आप बहुत खुश है तो आपकी बॉडी लैंग्वेज एकदम रिलैक्स कंफर्टेबल होगी आपके चेहरे पर अलग ही चमक होगी लेकिन जैसे ही आपको कोई भी कुछ कह देता है तो आप बहुत ही ज्यादा डिप्रेस्ड एकदम से हो जाते होंगे जिस समय आप के साथ यह सब हो रहा हो उस समय आप अपने आप से बात करें यह वाला तरीका शायद आपको थोड़ा अजीब सा लगे लेकिन इस तरीके से आप बहुत कुछ हल कर सकते हो बहुत सारे लोगों का यह कहना है कि जब आप कुछ अच्छा महसूस ना कर पा रहे हो या किसी चिंता में हो तो ऐसे समय पर किसी से बात करके आप अपना मन हल्का कर सकते हैं इस बात को तो आप मानते होंगे लेकिन अगर आप के आस पास कोई भी नहीं है बात करने वाला जिससे आप अपनी बात कह सको तो ऐसे समय में आप क्या करोगे तो दोस्तों ऐसे समय पर अपने आप से ही बात करना शुरू करना चाहिए शायद आप इस तरीके को बकवास मान लो लेकिन दोस्तों एक बार करके देखो शायद आपको कुछ फर्क दिखाई देगा दिमागी तरीके से इमोशन से कैसे निकाले कि खुद को जब आए थे इमोशंस में फंस जाते हैं कि आपके दिमाग में कुछ चल रहा है अब तू उन चीजों पर का बुलाना बड़ा मुश्किल होता है हममें से ज्यादातर लोग ऐसे ही करते हैं जब हम इमोशन को काबू में नहीं कर पाते तो हम जल्दी व्यक्त कर बैठते हैं और जल्दबाजी में काम ले लेते हैं आप लोगों को भी पता होगा कि जल्दबाजी में किया हुआ कोई भी काम सही नहीं होता तो आपको रिएक्शन पर काबू पाना सीखना होगा एक लंबी सांस लें और धीरे-धीरे सांस को छोड़ें इससे आपका दिमाग और शरीर सामान्य हो जाएगा तब आप फैसले ले सकते हैं दीक्षित आपको रोजाना सुबह मेडिटेशन योगा करना होगा सुबह जल्दी उठना होगा और अपने दिमाग को एक्टिव रखना होगा और ज्यादा से ज्यादा कार्य करने होंगे यानी कि आप जितना अपने आपको अलग से भरेंगे आपके दिमाग में उतनी ही ज्यादा चीजें घूमती नजर आएंगे और आप उतना ही ओवरथिंकिंग का शिकार हो जाओगे तो इससे अच्छा तो अच्छा आईडी यह है कि अपने आप को एक राह दो एक लक्ष्य दो जिससे कि आपका मन जो है वह भी शांत रहेगा और आपके दिमाग में ज्यादा से ज्यादा चीजें भी नहीं आएंगी धन्यवाद

#जीवन शैली

bolkar speaker
हमें गैर जरूरी मानसिक इच्छाओं का दमन करने के लिए क्या करना चाहिए?Hume Gair Jaruri Mansik Ichao Ka Daman Karne Ke Liye Kya Karna Chayia
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
2:31
प्रश्न है हमें गैर जरूरी मानसिक इच्छाओं का दमन करने के लिए क्या करना चाहिए थी कि सबसे पहले हमें यह समझना होगा कि गैरजरूरी मानसिक इच्छाएं जो है वह होती क्या है उदाहरण के तौर पर अगर हम एक हाईटेक ट्रैक्टर में काम नहीं कर रहे हैं और हमारा काम सिर्फ 7 से 8000 वाले स्क्रीन टच मोबाइल से चल सकता है लेकिन हमारी मन की बहुत जबरदस्त इच्छा है कि हम एप्पल का मोबाइल लेना है उसके बाद ही मैं खुश रह पाऊंगा उसके बिना मेरा काम ही नहीं चल सकता तुम मुझे वह फोन लेना ही लेना है चाहे कैसे भी तो यह इच्छा है जो हमारे मन में उत्पन्न होती हैं आप यह नहीं सोच रहे कि उसके अलावा मैं कुछ और ले सकता हूं या नहीं आप के दिमाग में की वजह है कि मुझे केवल वही चाहिए तो यह क्या जरूरी बातें हैं अगर हमारी इस तरह की इच्छाएं हैं तो हमें खुद से कुछ प्रश्न पूछने चाहिए जिससे कि हमें पता चलेगा कि जो इच्छाएं हमारी बन रही है वह क्यों बन रही हैं पहला प्रश्न कि अगर मोबाइल फोन की बात करें अगर एप्पल का फोन ही चाहिए तो सबसे पहले आपको अपने आप से पूछ रहा होगा कि मैं खरीदना क्यों चाहता हूं इसका मुझे कोई काम है भी या नहीं है क्या इसकी मुझे सख्त जरूरत है अगर जरूरत है तो मैं ले लेता हूं अगर जरूरत नहीं है फिर भी मेरा यह फोन लेने का मन है तो फिर ऐसा इस फोन में क्या है जिसके कारण मुझे इसे लेने का मन हो रहा है जब हम इन सवालों का जवाब दे देते हैं तो हमारी गैरजरूरी इच्छा के कुछ पहलू नजर आते हैं कि हम चाहते हैं कि हम लोगों को दिखाएं कि हम भी कुछ कर सकते हैं यह हम उनसे अमीर है या नहीं हम अपने अहंकार को संतुष्ट करना चाहते हैं और यह सच है कि अहंकार कभी संतुष्ट नहीं होता हम क्या देते हैं कि उस फोन के बिना तो मेरा काम चलेगा ही नहीं अगर मेरे पास वह फोन होगा तू मैं भी कुछ करूंगा यह एक बहाने की सूची है और इस से ज्यादा कुछ नहीं तो आप अपने आप को समझाइए और अपने आप से प्रश्न पूछे कि क्या जो आप कर रही है वह आपके लिए सही है क्या आपको चीज का बाद में पछतावा होगा या नहीं होगा देखिए जो मारी इच्छाएं हैं वह कभी ना खत्म होने वाली इच्छाएं हम तो ऐसे में भी कारण जब तक आपको वह चीजें जरूरी ना लगे तब तक आप उनके बारे में ज्यादा मत सोचिए धन्यवाद

#मनोरंजन

bolkar speaker
5 सबसे बेहतरीन मोटिवेशनल हिंदी मूवी कौन सी है?5 Sabse Behtreen Motivational Hindi Movie Kon Si Hai
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
2:11
प्रश्न है पांच सबसे बेहतरीन मोटिवेशनल हिंदी मूवी कौन सी है पहली मूवी है भाग मिल्खा भाग बड़ी ही मशहूर मूवी है इस फिल्म में दिखाया गया है कि कैसे अपने लक्ष्य को पाने के लिए मिल्खा सिंह रात दिन कर एक मेहनत करता है या फिर मिल्खा सिंह के बचपन से लेकर फ्लाइंग सिख बनने तक की कहानी है इस फिल्म में दिखाया गया है कि मिल्खा सिंह ने बचपन में भारत-पाक विभाजन के दौरान किस तरह के दर्द जिले हैं और यह काफी अच्छी मोटिवेशनल हिंदी मूवी है उसके बाद आते हैं दोस्ती मूवी निल बटे सन्नाटा यह फिल्म एक गरीब मां और उसकी बेटी की कहानी है मां घरों में काम करती है मगर चाहती है कि बेटी पढ़ ले कर नाम कमाएं मगर बेटी सोचती है कि जो मां करती है वही वह भी करेगी बेटी के सपने मर चुके होते हैं लेकिन बावजूद इसके काफी समस्याओं से लड़ने के बाद वह अपनी बेटी को शिक्षा की ओर एक नई दिशा और प्रेरणा देती है तीसरी मूवी जो है वह चक दे इंडिया कबीर खान नाम के व्यक्ति की कहानी है जो भारतीय हॉकी टीम का स्टेज सेंटर फॉरवर्ड खिलाड़ी रह चुका है पाकिस्तान के विरुद्ध एक फाइनल मैच में वह अंतिम क्षणों में पेनल्टी स्ट्रोक के जरिए गोल बनाने से चूक गया और उसे आलोचनाओं का सामना करना पड़ा और बाद में उसकी टीम ने मिलकर जो है बड़े संघर्ष और मेहनत से चैंपियनशिप हासिल की तो यह भी बड़ी अच्छी मोटिवेशनल जो मूवी हिंदी है और एक मूवी जो बड़ी ही शानदार है वह फिल्म गांव में रहने वाले गूंगे और बहरे लड़की की कहानी है फिल्म का नाम है एक बार जो भारतीय क्रिकेट टीम के लिए क्रिकेट खेलने का सपना देखता है और उसके लिए संघर्ष करता है उसके पास कोई सुविधा नहीं होती उसके पिता भी उसके क्रिकेट खेलने का विरोध करते हैं लेकिन वह हार नहीं मानता वह हर तरह के हालातों से अच्छे से मुकाबला घर कहा यह फिल्म छात्रों को सिखाती है कि हालात चाहे जैसे भी हो हमें हिम्मत नहीं हारना चाहिए कठिन परीक्षा और दृढ़ निश्चय से सफलता जरूर मिलती है धन्यवाद

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
भविष्य में टचस्क्रीन तकनीक की जगह कौन सी तकनीक लेने वाली है?Bhavishy Me Touchscreen Takneek Ki Jage Kon See Takneek Lene Wali Hai
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
1:48
प्रश्न है कि भविष्य में 3 तकनीकी जगह कौन सी तकनीक लेने वाली है निकिता स्क्रीन तकनीक की जगह भविष्य में कौन सी तकनीक प्रयोग में आने वाली है इस पर पूरे विश्वास से कुछ भी कोई नहीं कह सकता है कि सबसे पहले बात करते हैं प्रोजेक्ट सोलिंग प्रोजेक्ट चोली गूगल द्वारा विकसित की गई एक तकनीक है जिसमें आप किसी डिवाइस को जस्ट द्वारा कंट्रोल कर सकते हैं यानी कि आपको अब अपने लैपटॉप कंप्यूटर स्मार्ट टीवी आदि चलाने के लिए आने वाले समय में टच स्क्रीन कीबोर्ड माउस के भरोसे नहीं रहना पड़ेगा बस दूर से अपने हाथों से झज्जर बनाई है आपको डिवाइस उसके अनुसार कंट्रोल करना होगा इस तकनीक को एक छोटी सी चिप में फिट किया गया है और आने वाले समय में जल्द ही तकनीकी खामी सभी को डिजिटल डिवाइस में देखने को मिल सकती है इस तकनीक का काफी लोगों को बेहद बेसब्री से इंतजार होगा इसके अलावा वॉइस कंट्रोल भी आजकल आपने देखा होगा कि जैसे गूगल पिक्चर देखनी थी आप इसका इस्तेमाल भी आपने काफी बार किया होगा वह भी आने वाले समय में टर्न की जगह ले सकती हैं इसके अलावा आंखों के साथ कंट्रोल करना किसी भी डिवाइस को यह भी आने वाली तकनीकों में एक हो सकती है अगर बात करते हैं कि जो विश्वर्या लेटी है यह तकनीक आजकल खूब प्रयोग में आ रही है आप भी व्हाट्सएप चैट खरीद कर अपने स्मार्टफोन को बिना टच किए यूज कर सकते हैं लेकिन कुछ ही ऐसे स्मार्टफोन है जो आपको पूरी तरह स्मार्ट फोन का भी आज द्वारा कंट्रोल कर सकते हैं और ऐसी तकनीक है जिनके बारे में अभी नहीं भी पता है और शायद कुछ आने वाले दो विषय में ऐसा भी हो सकता है जो टच स्क्रीन का नामोनिशान ही खत्म कर दें धन्यवाद

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
क्या फेयरनेस क्रीम लगाने से कोई सचमुच गोरा हो सकता है?Kya Fairness Cream Lagane Se Koi Sachmuch Gora Ho Sakta Hai
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
2:17
प्रश्न है क्या फेयरनेस क्रीम लगाने से कोई सचमुच गोरा हो सकता है देखिए मार्केट में आपको बहुत सारी अच्छी क्रीम मिल जाएंगे जिनके नाम और जिनके बारे में आपने बहुत ज्यादा सुना होगा और वह वाकई में कहते हैं कि हां हम आपको काले से गोरा बना देंगे हालांकि क्रीम लगाना गलत नहीं है लेकिन उसके साथ ही यह देखना भी जरूरी होता है कि क्रीम क्यों शरीर के किस हिस्से पर लगाई जा रही है आमतौर पर लोग यह समझना नहीं चाहते कि जिस क्रीम के बल पर मोर रंग बदलने जा रहे हैं उस क्रीम में क्या-क्या मिला हुआ है और त्वचा के लिए कितनी सही है डॉक्टर कहते हैं कि जो लोग बिना जाने पहचाने और अपनी त्वचा की फिक्र किए बिना कोई भी क्रीम चुनकर लगाना शुरू कर देते हैं वह गंभीर साइड इफेक्ट के शिकार बन सकते हैं बिना जांच पड़ताल के लगाई जा रही क्रीम हो सकता है कि सुरक्षा मापदंड पर खरे उतरे क्रीम में पानी जैसे खतरनाक पदार्थ होते हैं अगर इसमें जरूरत से ज्यादा पारा डाल दिया तो इससे आपकी सेहत खतरे में पड़ सकती है लेकिन सबसे पहले जाना जरूरी है कि फेयरनेस क्रीम आखिर कैसे काम करती है फेस क्रीम हमारे शरीर में मौजूद मेलेनिन पर असर करती है किसी भी व्यक्ति की त्वचा का रंग मेलेनिन से तय होता है और यह अपने स्क्रीन उस मेलेनिन को कम कर देती है जिससे रंग साफ हो जाता है त्वचा में जितना ज्यादा मैं लेने होगा उतना ही गहरा होगा फेयरनेस क्रीम में दो तरह की ब्लीचिंग एजेंट होती है हाइड्रोक्लीन और कार्तिक करो साइड त्वचा विशेषज्ञ कहते हैं कि किसी भी फेयरनेस क्रीम में हाइड्रो क्रेन इनका स्थित चार परसेंट से कम होना चाहिए क्योंकि चेहरे के लिए नहीं बनती और चेहरे की त्वचा काफी नाजुक होती है जिससे चेहरे पर बुरा असर पड़ सकता है ज्यादातर फेयरनेस क्रीम में थायराइड की अधिक मात्रा का इस्तेमाल होता है इसकी वजह से डिप्रेशन होता है इससे काला रंग कम होने लग एकदम से आपको चमकदार तो नहीं बनाती है लेकिन आपका अगर सांवला रंग है वह थोड़ा सा शानदार दिखने लगता है क्योंकि इसमें ऐसे केमिकल्स मिलाए जाते हैं जो आप के रंग को थोड़ा और सुंदर बना देती हैं धन्यवाद

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या किसी व्यक्ति की तस्वीर देखकर उसकी मानसिक मनोदशा का पता लगाया जा सकता है?Kya Kisi Vyakti Ki Tasveer Dekhkar Usaki Maanasik Manodasha Ka Pta Lagaya Ja Sakta Hai
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
1:24
प्रश्न है क्या किसी व्यक्ति की तस्वीर देखकर उसकी मानसिक मनोदशा का पता लगाया जा सकता है दिखी सोशल मीडिया आजकल इतनी ट्रेंड कर रही है हर कोई व्यक्ति सोशल मीडिया पर आसानी से आपको मिल जाएगा और साथ ही साथ उसके स्टेटस जो रोज के अपडेट होते हैं आपको वह भी मिल जाएंगे और उसकी स्टोरी से यह भी पता लग जाएगा कि उसकी मनोदशा क्या है इस समय वह क्या सोच रहा है वर्तमान में उसकी जिंदगी में क्या चल रहा है लेकिन ऐसा हर व्यक्ति के साथ आप नहीं आजमा सकते क्योंकि हर व्यक्ति की जो मानसिकता है एक जैसी नहीं होती कुछ लोग जो है दिखावा करना अधिक पसंद करते हैं मैं नहीं चाहते कि उनकी दुखी जिंदगी और या उनके मानसिकता के बारे में हम किसी और के साथ अपनी बातें ही निजी जिंदगी शेयर करें तो ऐसे ही में कुछ लोग जो है झूठी तस्वीरें भी लोगों के सामने यह दिखावा करते हैं कि वह बहुत खुश हैं वह अपनी जिंदगी अच्छे से विचार लेकिन हम केवल किसी के तस्वीर को देखकर उसकी मानसिक और मनोदशा को हम नहीं पता लगा सकते उसके लिए जब तक हम उनसे अच्छी तरीके से जुड़े ना हो या फिर उनके नीचे को अच्छे से ना जानते हो उनसे आपस में मिलकर बातचीत ना करें तो हम उनकी मानसिकता और मनोदशा के बारे में पता नहीं लगा सकते यह सत्य बात है धन्यवाद

#जीवन शैली

bolkar speaker
आप कठिनाइयों का सामना कैसे करते है ?Aap Kathinaiyon Ka Samna Kaise Karte Hai
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
2:38
प्रश्न है आप कठिनाइयों का सामना कैसे करते हैं देखिए हर कोई अपने जीवन की समस्याओं से परेशान है किसी के पास छोटी तो किसी के पास बड़ी परेशानियां है तो कोई अपनी मूल जरूरतों को पूरा नहीं कर पा रहा है तो कोई मृत्यु के शोक में है अब लेकिन इससे जिंदगी को अंधकार में रखा जा सकता है देखिए अपनी जिंदगी में जब हम जागते हैं तो देखते हैं कि कितने संघर्ष है कितनी परेशानियों में घिरे हुए हैं लेकिन कभी किसी दूसरे की जिंदगी में देखिए तो आपको अपने समझते हैं काफी कम लगेगी जिन कठिनाइयों परिस्थितियों में आप अपने होते खो देते हैं उसी को अगर आप चाहे तो अपनी जिंदगी के सबसे बड़ी मजबूती भी बना सकते हैं दुनिया में ऐसे कई उदाहरण हैं जिन्होंने अपना सब कुछ खो दिया लेकिन फिर भी अपने होटलों को इतना बुलंद रखो कि सब होने के बाद पूरी दुनिया आज उनके सामने झुकती है हम युवा नौकरी के लिए बुजुर्ग सेहत के लिए तो बच्चे परीक्षा से परेशान है लेकिन इन सभी में ऐसा सार छिपा है जिसे हम अगर पान कर ले तो यह जिंदगी ना सिर्फ आसान हो जाएगी बल्कि अच्छी भी हो जाएगी लेकिन जब किसी इंसान की नजर कम होती है और उसे किसी बात का एहसास होने लगे कि वह जल्द अंधा होने वाला है इस बात से वह दो तरीकों से प्रभावित होता है सबसे पहले तो यह कि उसे यह समझना होगा कि अब वह साथ पढ़ने लोगों को देखना टीवी देखना या फिर वह सब चीजों को जो एक आंखों से संपन्न व्यक्ति कर सकता है वह इंसान नहीं कर पाएगा दूसरा उसे इसके मनोवैज्ञानिक प्रभाव से काफी ज्यादा तक जूझना होगा व्यवहारिकता किसी भी व्यक्ति को ऊर्जा का केवल 25% हिस्सा को खत्म कर देती है जबकि दिल और दिमाग में अगर हार मान ली जाए तो बाकी बचा हुआ 75% हिस्सा भी खत्म हो जाता है जिसका नतीजा होगा कि ज्यादा वक्त अपने भविष्य के बारे में सोचने में गुजार देना तो देखिए कठिनाइयों के बारे में जब हम ज्यादा से ज्यादा सोचते हैं उनके बारे में विचार करते रहते हैं और अपने मन में यह बिठा लेते हैं कि नहीं अभी मुझसे नहीं होगा तो ऐसे आप कभी भी अपनी जिंदगी में आगे नहीं बढ़ पाओगे तो इसका आसान तरीका है आप क्या कीजिए जो भी आपने पुराने समय में जो भी घटनाएं की है अच्छी थी बुरी थी उन्हें सब बुलाकर आगे की ओर अग्रसर हो हो सकते हैं और अपने एक लक्ष्य बना सकते हैं जिससे कि आपको दूसरों की मदद से और अपने जो दृढ़ निश्चय से आप किसी भी कठिनाई का सामना आसानी से कर सकते हैं धन्यवाद
URL copied to clipboard