#मनोरंजन

bolkar speaker
कोई एक डायलॉग सुनाएं?Koi Ek Daylog Sunaye
BEBY SINGH Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए BEBY जी का जवाब
I am student
0:55

#मनोरंजन

bolkar speaker
अपने पसंदीदा गाने के दो लाइन गाकर सुनाएं?Apane Pasandeeda Gaane Ke Do Lain Gaakar Sunaen
neelam mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए neelam जी का जवाब
Job
2:36
फ्रेंड्स गुड आफ्टरनून करे आप सुनील मिश्रा को कैसे हो आप सब लोग दोस्तों एक मित्र का सवाल अपने पसंदीदा गाने की दो लाइन गाकर तो दोस्तों ओल्ड सॉन्ग मुझे बहुत पसंद है पट्टी न्यू सांगवी जो कुछ है जो मैं पसंद करती हूं उनमें से एक शाम में हमको सुनना चाहती हूं जो मुझे बहुत फेवरेट है और मैं जब भी अकेले होती तो मैं निशान सुनती हूं इतनी मोहब्बत करो ना मैं डूब ना जाऊं कहीं वापस किनारे पे आना मैं भूल जाऊं जब से देखा है सूरत तेरी तो हफ्तों से सोया नहीं बोल दो दिल में जो है छुपा मैं किसी से कहूंगा नहीं मैं किसी से कहूंगा नहीं मुझे नींद आती नहीं है अकेले ख्वाबों में आया करो नहीं चल सकूंगा मैं तेरे बिना मेरा तुम सहारा ना इतना कुछ हमसे होगा नहीं बोल दो ना जरा दिल में जो है छुपा मैं किसी से कहूंगा नहीं मैं किसी से कहूंगा नहीं मैं किसी से कहूंगा नहीं थैंक यू दोस्तों मुझे यह सॉन्ग बहुत ही अच्छा लगता है और सच में आप सभी से यह फोन लगाकर कभी जब आप अकेले हो तो आपको बहुत अच्छा लगेगा जैसे कोई गहरा हो कुछ ऐसा फील होता है इस काम को सुनने से तो धन्यवाद दोस्तों हमें बहुत पसंद है और अगर आपको मेरा नाम पसंद आए तो लाइक और कमेंट करिए सब्सक्राइब करना मत बोलिएगा थैंक यू
Phrends gud aaphtaranoon kare aap suneel mishra ko kaise ho aap sab log doston ek mitr ka savaal apane pasandeeda gaane kee do lain gaakar to doston old song mujhe bahut pasand hai pattee nyoo saangavee jo kuchh hai jo main pasand karatee hoon unamen se ek shaam mein hamako sunana chaahatee hoon jo mujhe bahut phevaret hai aur main jab bhee akele hotee to main nishaan sunatee hoon itanee mohabbat karo na main doob na jaoon kaheen vaapas kinaare pe aana main bhool jaoon jab se dekha hai soorat teree to haphton se soya nahin bol do dil mein jo hai chhupa main kisee se kahoonga nahin main kisee se kahoonga nahin mujhe neend aatee nahin hai akele khvaabon mein aaya karo nahin chal sakoonga main tere bina mera tum sahaara na itana kuchh hamase hoga nahin bol do na jara dil mein jo hai chhupa main kisee se kahoonga nahin main kisee se kahoonga nahin main kisee se kahoonga nahin thaink yoo doston mujhe yah song bahut hee achchha lagata hai aur sach mein aap sabhee se yah phon lagaakar kabhee jab aap akele ho to aapako bahut achchha lagega jaise koee gahara ho kuchh aisa pheel hota hai is kaam ko sunane se to dhanyavaad doston hamen bahut pasand hai aur agar aapako mera naam pasand aae to laik aur kament karie sabsakraib karana mat boliega thaink yoo

#मनोरंजन

bolkar speaker
दुख भरे गाने आपके दिमाग को किस तरह प्रभावित करते हैं?Dukh Bhare Gaane Aapake Dimaag Ko Kis Tarah Prabhaavit Karate Hain
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:52
आपका सवाल है दुख भरे गाने आपके दिमाग को किस तरह प्रभावित करते हैं तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार है अपने जीवन में कठिन दिनों में आस्था के स्वरूप या मैदा और सीता के स्वरूप समाज और अपने का साथ में मिलने का कारण वही दिल को सुकून देने वाले दर्द भरे गीत सुनने या गुनगुनाते हैं हमारा मन विचलित होता है इसलिए यह सारे आस्था व निराशा सुख-दुख के भेद खत्म करके मन लगाया जिससे एक मधुर संगीत मन में हमेशा घूमता रहता है और इससे आपके दिल दिमाग को एक सुकून सा धन्यवाद दोस्तों को सुनाओ
Aapaka savaal hai dukh bhare gaane aapake dimaag ko kis tarah prabhaavit karate hain to doston aapake savaal ka uttar is prakaar hai apane jeevan mein kathin dinon mein aastha ke svaroop ya maida aur seeta ke svaroop samaaj aur apane ka saath mein milane ka kaaran vahee dil ko sukoon dene vaale dard bhare geet sunane ya gunagunaate hain hamaara man vichalit hota hai isalie yah saare aastha va niraasha sukh-dukh ke bhed khatm karake man lagaaya jisase ek madhur sangeet man mein hamesha ghoomata rahata hai aur isase aapake dil dimaag ko ek sukoon sa dhanyavaad doston ko sunao

#मनोरंजन

bolkar speaker
अली बक्सी ख्याल के बारे में आप क्या जानते हैं?Ali Baksi Khyaal Ke Baare Mein Aap Kya Jaante Hain
Shyam sundar Nai Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Shyam जी का जवाब
नोकरी
0:45
अली बक्सी ख्याल अलवर रियासत के मुंडावर ठिकाने के रामराजा अलीबाग के समीप लोक नाट्य शैली है इसका ख्याल से लिखना क्यों में सर्वश्रेष्ठ माना जाता है इसके अलावा अली बक्सी ख्याल की अन्य रचनाएं निम्न है वैसे निहालदे चंद्रावल काबली अलवर का शिफ्ट नामा इत्यादि धन्यवाद
Alee baksee khyaal alavar riyaasat ke mundaavar thikaane ke raamaraaja aleebaag ke sameep lok naaty shailee hai isaka khyaal se likhana kyon mein sarvashreshth maana jaata hai isake alaava alee baksee khyaal kee any rachanaen nimn hai vaise nihaalade chandraaval kaabalee alavar ka shipht naama ityaadi dhanyavaad

#मनोरंजन

Ashok Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ashok जी का जवाब
कृषक👳💦
0:54
की फिल्मों में अच्छाई और बुराई दोनों ही बातें बताई जाती है यदि राम है तो वहां पर रावण भी है तो समाज में दो ही तरह के लोग अच्छे भी और बुरे भी और फिल्मों में भी हमेशा सच्चाई की भेजें दिखाई जाती है तो हीरो की ही जीत होती है तो यह आज से नहीं सृष्टि के प्रारंभ से ही चलता रहा है अच्छा यह तो वह बुराई है लेकिन जीत हमेशा सच्चाई की होती है बुराई अच्छाई के ऊपर कभी हावी नहीं हो सकती तो इसी प्रकार हमें फिल्मों से सकारा तेलुगु पर गौर करना चाहिए और पाजी टीवी ग्रहण करना चाहिए और जाम बुरा है हमें छोड़ देना चाहिए जिस प्रकार से दूध और पानी मेरे सिर पर दूध दूध पी लेता है और पानी को छोड़ देता है धन्यवाद
Kee philmon mein achchhaee aur buraee donon hee baaten bataee jaatee hai yadi raam hai to vahaan par raavan bhee hai to samaaj mein do hee tarah ke log achchhe bhee aur bure bhee aur philmon mein bhee hamesha sachchaee kee bhejen dikhaee jaatee hai to heero kee hee jeet hotee hai to yah aaj se nahin srshti ke praarambh se hee chalata raha hai achchha yah to vah buraee hai lekin jeet hamesha sachchaee kee hotee hai buraee achchhaee ke oopar kabhee haavee nahin ho sakatee to isee prakaar hamen philmon se sakaara telugu par gaur karana chaahie aur paajee teevee grahan karana chaahie aur jaam bura hai hamen chhod dena chaahie jis prakaar se doodh aur paanee mere sir par doodh doodh pee leta hai aur paanee ko chhod deta hai dhanyavaad

#मनोरंजन

Saloni vishwkarma   Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Saloni जी का जवाब
Unknown
1:03
हेलो खान का क्वेश्चन है कि बॉलीवुड एक्टर कैसे बन सकते हैं और कहां जाना पड़ता है कौन सा कोर्स करना पड़ता है तो देखी बॉलीवुड एक्टर बनने के लिए सबसे जरूरी होता है वह विधायक आपको उसका खोज करना पड़ेगा वैसे तो आजकल बहुत सारे एक्टिंग इंस्टिट्यूट है बट थे जो सबसे अच्छे होते हैं वह एक्टिंग स्कूल होते हैं वैसे तो कोई कोई स्कूल की स्कूल से पैसे भी लेते हैं और आप को उल्टा सीधा सिखा देते हैं तो उसका छोड़ी आपको क्या जाने का बताया तो आपको फिल्म इंडस्ट्री में जाने के लिए सबसे पहले ऑडिशन देना होता है इसके बाद मुंबई में बहुत से बड़े बड़े ऑडिशन होते हैं मुंबई में बहुत सी कास्ट अंजन सी होती है और प्रोडक्शन हाउस है जहां पर ऑडिशन लिए जाते हैं और फिर सारे ऑडिशन कंप्लीट करने के बाद जितने भी इनमें ग्राउंड सोते हैं कार्य कंप्लीट करने के बाद आपस में जॉइंट हो सकते हैं आपको मुझसे विधि अनिका अपना हुनर दिखाने का चांस मिल जाएगा
Helo khaan ka kveshchan hai ki boleevud ektar kaise ban sakate hain aur kahaan jaana padata hai kaun sa kors karana padata hai to dekhee boleevud ektar banane ke lie sabase jarooree hota hai vah vidhaayak aapako usaka khoj karana padega vaise to aajakal bahut saare ekting instityoot hai bat the jo sabase achchhe hote hain vah ekting skool hote hain vaise to koee koee skool kee skool se paise bhee lete hain aur aap ko ulta seedha sikha dete hain to usaka chhodee aapako kya jaane ka bataaya to aapako philm indastree mein jaane ke lie sabase pahale odishan dena hota hai isake baad mumbee mein bahut se bade bade odishan hote hain mumbee mein bahut see kaast anjan see hotee hai aur prodakshan haus hai jahaan par odishan lie jaate hain aur phir saare odishan kampleet karane ke baad jitane bhee inamen graund sote hain kaary kampleet karane ke baad aapas mein joint ho sakate hain aapako mujhase vidhi anika apana hunar dikhaane ka chaans mil jaega

#मनोरंजन

bolkar speaker
आपको बॉलीवुड और साउथ की मूवी में कौन सी ज्यादा अच्छी लगती है और क्यों?Aapako Boleevud Aur Sauth Kee Moovee Mein Kaun See Jyaada Achchhee Lagatee Hai Aur Kyon
Aniket Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Aniket जी का जवाब
Student
0:47
सुप्रभात आपका सवाल है आपको बॉलीवुड और साउथ की मूवी में कौन सी ज्यादा अच्छी लगती है और क्यों मेरा ज्यादातर समय इस्लाम डॉन के काल में मूवी देखना किताबें पढ़ना इन समय व्यतीत हुआ है मुझे बॉलीवुड में सबसे अच्छी मूवी 3 ईडियट्स लगती है और साउथ में 96 ऑल लव स्टोरी मूवी सबसे चलती है और बात रही क्यों अच्छी लगती है उसका कारण है कि इन दोनों का कहानी बिल्कुल अलग है और वह हम खुद के अपनी जिंदगी से उसे डिलीट कर सकते हैं इसलिए यह कहानियां मुझे मन बहुत अच्छी लगी
Suprabhaat aapaka savaal hai aapako boleevud aur sauth kee moovee mein kaun see jyaada achchhee lagatee hai aur kyon mera jyaadaatar samay islaam don ke kaal mein moovee dekhana kitaaben padhana in samay vyateet hua hai mujhe boleevud mein sabase achchhee moovee 3 eediyats lagatee hai aur sauth mein 96 ol lav storee moovee sabase chalatee hai aur baat rahee kyon achchhee lagatee hai usaka kaaran hai ki in donon ka kahaanee bilkul alag hai aur vah ham khud ke apanee jindagee se use dileet kar sakate hain isalie yah kahaaniyaan mujhe man bahut achchhee lagee

#मनोरंजन

bolkar speaker
ट्यूबलाइट में कौन सी गैस भरी जाती है और क्यों भरी जाती है?Tubelight Me Kaun Si Gas Bhari Jati Hai Aur Kyo Bhari Jati Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:38
मेरे सभी परिवार भी मित्रों को आपके सवाल का उत्तर इस दुकान से धोबिलाइट और पलक के अंदर जो गैस भरी जाती है लेकिन फ्लोरोसेंट ट्यूब लाइट कम दबाव वाला 12 वर्ष और आर्गन जिन्होंने 1 टन से युक्त गैस भरी होती है ट्यूबलाइट के अंदर दवा वायुमंडलीय दबाव का लगभग 0% है
Mere sabhee parivaar bhee mitron ko aapake savaal ka uttar is dukaan se dhobilait aur palak ke andar jo gais bharee jaatee hai lekin phlorosent tyoob lait kam dabaav vaala 12 varsh aur aargan jinhonne 1 tan se yukt gais bharee hotee hai tyoobalait ke andar dava vaayumandaleey dabaav ka lagabhag 0% hai

#मनोरंजन

bolkar speaker
अर्जुन और युधिष्ठिर के बीच लड़ाई क्यों हो गई थी?Arjun Aur Yudhishthir Ke Beech Ladai Kyun Ho Gayi Thi
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
3:11
काले अर्जुन और युधिष्ठिर के बीच लड़ाई क्यों हो गई थी देखिए महाभारत के कर्ण पर्व में बताया गया कि जब अर्जुन ने युधिष्ठिर को मारने के लिए तलवार उठाई तब श्री कृष्ण ने किस प्रकार बचाया यह प्रसंग इस प्रकार है गुरु द्रोणाचार्य की मृत्यु के बाद कल को कौरव सेना का सेनापति बनाया गया सेनापति बनते ही करने पांडू की सेना में खलबली मचा दी करण द्वारा अपनी सेना का सफाया होते देखकर इदरीश युद्ध करने पहुंचे करने को घायल कर दिया इस दिल को घायल देखकर करके उन्हें युद्ध से दूर ले गया इस बारे में जब अर्जुन को पता लगा तो वह श्री करने के साथ ही दृश्य को देखने उनकी छावनी पहुंचे अर्जुन और श्री कृष्ण को एक साथ देख कर धर्मराज नितिन ने समझा कि अर्जुन ने कर्ण का वध कर मेरी पराजय का बदला ले लिया है जब को पता चला कि कल अभी तक जीवित है तो उन्हें अर्जुन पर बहुत क्रोध आया और उन्होंने अपने तक दूसरों को देने के लिए कह दिया कि अर्जुन को बहुत क्रोध आया और उन्होंने जिस पर को मारने के लिए तलवार उठाने श्री कभी उसकी मानसिकता गए और उन्होंने अर्जुन को रोक दिया अर्जुन ने श्रीकृष्ण को बताया मैंने गुप्त रूप से प्रतिज्ञा की थी कि जो कोई मुझसे अपने साथ दूसरों को देने के लिए कहेगा मैं उसका सर काट लूंगा श्री कृष्ण ने अर्जुन से कहा कि तुम आज डिस्टिक का थोड़ा अपमान कर दो सम्मान योग व्यक्ति का अपमान करना उसकी हत्या करना जैसा ही है श्रीकृष्ण की बात मानकर अर्जुन ने युधिष्ठिर को ऐसे कटु वचन कहे जैसे पहले कभी नहीं कहेंगे दृष्टि का अपमान करने से अर्जुन को बहुत दुख हुआ और उन्होंने आत्महत्या करने के लिए तलवार उठाने श्री कृष्ण ने अर्जुन से कहा कि तुम स्वयं की तारीफ करो ऐसा करना आत्महत्या करने के समान है अर्जुन ने ऐसा ही किया अर्जुन के कठोर वचन सुनकर एडिट बहुत दुखी हुए और बन जाने के लिए तैयारी कर ले तब श्रीकृष्ण ने युधिष्ठिर से कहा कि मेरे ही कहने पर अर्जुन ने आप का अनादर किया है उसे आप क्षमा कर दीजिए इस प्रकार भगवान श्री कृष्ण ने अर्जुन और जिससे दोनों को जी गर्म करने से रोक लिया इस प्रकार अर्जुन हुआ श्री कृष्णा अपने रथ पर सवार होकर युद्ध करने निकल पड़े
Kaale arjun aur yudhishthir ke beech ladaee kyon ho gaee thee dekhie mahaabhaarat ke karn parv mein bataaya gaya ki jab arjun ne yudhishthir ko maarane ke lie talavaar uthaee tab shree krshn ne kis prakaar bachaaya yah prasang is prakaar hai guru dronaachaary kee mrtyu ke baad kal ko kaurav sena ka senaapati banaaya gaya senaapati banate hee karane paandoo kee sena mein khalabalee macha dee karan dvaara apanee sena ka saphaaya hote dekhakar idareesh yuddh karane pahunche karane ko ghaayal kar diya is dil ko ghaayal dekhakar karake unhen yuddh se door le gaya is baare mein jab arjun ko pata laga to vah shree karane ke saath hee drshy ko dekhane unakee chhaavanee pahunche arjun aur shree krshn ko ek saath dekh kar dharmaraaj nitin ne samajha ki arjun ne karn ka vadh kar meree paraajay ka badala le liya hai jab ko pata chala ki kal abhee tak jeevit hai to unhen arjun par bahut krodh aaya aur unhonne apane tak doosaron ko dene ke lie kah diya ki arjun ko bahut krodh aaya aur unhonne jis par ko maarane ke lie talavaar uthaane shree kabhee usakee maanasikata gae aur unhonne arjun ko rok diya arjun ne shreekrshn ko bataaya mainne gupt roop se pratigya kee thee ki jo koee mujhase apane saath doosaron ko dene ke lie kahega main usaka sar kaat loonga shree krshn ne arjun se kaha ki tum aaj distik ka thoda apamaan kar do sammaan yog vyakti ka apamaan karana usakee hatya karana jaisa hee hai shreekrshn kee baat maanakar arjun ne yudhishthir ko aise katu vachan kahe jaise pahale kabhee nahin kahenge drshti ka apamaan karane se arjun ko bahut dukh hua aur unhonne aatmahatya karane ke lie talavaar uthaane shree krshn ne arjun se kaha ki tum svayan kee taareeph karo aisa karana aatmahatya karane ke samaan hai arjun ne aisa hee kiya arjun ke kathor vachan sunakar edit bahut dukhee hue aur ban jaane ke lie taiyaaree kar le tab shreekrshn ne yudhishthir se kaha ki mere hee kahane par arjun ne aap ka anaadar kiya hai use aap kshama kar deejie is prakaar bhagavaan shree krshn ne arjun aur jisase donon ko jee garm karane se rok liya is prakaar arjun hua shree krshna apane rath par savaar hokar yuddh karane nikal pade

#मनोरंजन

Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
1:43
जसवाल ने की महाराणा प्रताप और छत्रपति शिवाजी महाराज की बिछिया को पारिवारिक रिश्ता था तो पारिवारिक रिश्ता तो नहीं था पर मेरा ऐसा मानना है कि यह मुमकिन है कि हम दोनों महापुरुषों को कम याद रखना चाहिए क्योंकि दोनों से समान वेतन चुराई थी दोनों में अपने दुश्मनों को करारा जवाब दिया था भारतवर्ष ओर आने वाली कौम के लिए प्रेरणादायक गीत महाराणा प्रताप सिंह उदयपुर मेवाड़ सिसोदिया राजपूत राजपूत राजवंश केंद्र अजय देवगन का नाम इतिहास में वीरता और दृढ़ता से लिया और अंगार है 9 सालों तक मुगल सम्राट अकबर के साथ सिंह रसिया महाराणा प्रताप सिंह ने मुगलों को कई बार युद्ध में भी हराया उसका जन्म राजस्थान के कुंभलगढ़ राणा उदयसिंह के जावत है और शिवाजी की बात की जाए तो छत्रपति शिवाजी महाराज शिवाजी राजे भोसले 1930 से 19 वर्सेस भारत के राजा और अधिकार थे उन्होंने 1684 में पश्चिम भारत में मराठा साम्राज्य की नींव रखी उन्होंने कई वर्षों तक औरंगजेब के मुगल साम्राज्य से अंग्रेज की आसन 1684 में रायगढ़ में उसका राज्याभिषेक हुआ चित्र पत्नी बन गया और सबसे पहले पानी में जाओ या पानी में युद्ध छत्रपति शिवाजी की कला है
Jasavaal ne kee mahaaraana prataap aur chhatrapati shivaajee mahaaraaj kee bichhiya ko paarivaarik rishta tha to paarivaarik rishta to nahin tha par mera aisa maanana hai ki yah mumakin hai ki ham donon mahaapurushon ko kam yaad rakhana chaahie kyonki donon se samaan vetan churaee thee donon mein apane dushmanon ko karaara javaab diya tha bhaaratavarsh or aane vaalee kaum ke lie preranaadaayak geet mahaaraana prataap sinh udayapur mevaad sisodiya raajapoot raajapoot raajavansh kendr ajay devagan ka naam itihaas mein veerata aur drdhata se liya aur angaar hai 9 saalon tak mugal samraat akabar ke saath sinh rasiya mahaaraana prataap sinh ne mugalon ko kaee baar yuddh mein bhee haraaya usaka janm raajasthaan ke kumbhalagadh raana udayasinh ke jaavat hai aur shivaajee kee baat kee jae to chhatrapati shivaajee mahaaraaj shivaajee raaje bhosale 1930 se 19 varses bhaarat ke raaja aur adhikaar the unhonne 1684 mein pashchim bhaarat mein maraatha saamraajy kee neenv rakhee unhonne kaee varshon tak aurangajeb ke mugal saamraajy se angrej kee aasan 1684 mein raayagadh mein usaka raajyaabhishek hua chitr patnee ban gaya aur sabase pahale paanee mein jao ya paanee mein yuddh chhatrapati shivaajee kee kala hai
URL copied to clipboard